• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Jhajjar
  • 2 Girls Died Due To Current Accident Due To Breaking Of High Voltage Power Wire In Hansapur, Palwal; Villagers Jammed

करंट से 2 लड़कियों की मौत:पलवल के हंसापुर में हाईवोल्टेज बिजली तार टूटने से हादसा; ग्रामीणों ने लगाया जाम

पलवल2 महीने पहले
दो सहेलियों की मौत के बाद ग्रामीणों द्वारा जाम लगाने की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस। - Dainik Bhaskar
दो सहेलियों की मौत के बाद ग्रामीणों द्वारा जाम लगाने की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस।

हरियाणा के पलवल जिले के हंसापुर गांव में रविवार को बिजली की हाई वोल्टेज लाईन के करंट की चपेट में आने से 8वीं कक्षा की छात्रा और इसकी सहेली की दर्दनाक मौत हो गई। दोनों के परिजनों ने इसके बाद गांव में हंगामा कर बिजली निगम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए अमरपुर में लिंक मार्ग को जाम कर दिया। जाम की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को समझा बुझा कर जाम खुलवाया। चांदहट थाना पुलिस ने बिजली निगम के कर्मियों के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज किया है। दोनों सहेलियों के शवों को पोस्टमार्टम के बाद वारिसों को सौंप दिया गया है।

रस्सी से बांधे गए थे तार

चांदहट थाना प्रभारी रमेशचंद ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली कि हंसापुर गांव में बिजली के तारों की चपेट में आने से दो लड़कियों की मौत हो गई है। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई और दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला नागरिक अस्पताल भेजा। शवों के साथ अस्पताल पहुंचे ग्रामीणों ने बताया कि अर्चना (21) और पलक (14) मकान की छत पर बने छज्जे पर थी।

मकान के नजदीक से 11 हजार वोल्टेज की बिजली लाईन गुजर रही है। लाइन को रस्सी बांध कर दूर किया गया था। इस दौरान रस्सी टूट गई और बिजली की तार पलक के सिर में आकर लगी। दोनों लड़कियां करंट की चपेट में आ गई। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।

जाम खोलने के लिए ग्रामीणों को मनाते पुलिस अधिकारी।
जाम खोलने के लिए ग्रामीणों को मनाते पुलिस अधिकारी।

परिजनों का ये आरोप

मृतका पलक के पिता कर्मवीर और ग्रामीणों ने बिजली निगम पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि जो बिजली तार पीडित के घर के पास से गुजर रही है, वह अवैध तरीके लगाई हुई थी। उसको हटवाने के लिए निगम को कई बार शिकायत दी। लेकिन निगम के किसी भी अधिकारी या कर्मचारी ने उनकी समस्या की तरफ ध्यान नहीं दिया। इसी के कारण रविवार को दोनों सहेलियों की मौत हो गई। अमरपुर पुलिस चौकी इंचार्ज मनोज कुमार ने बताया कि कर्मवीर और चरण सिंह की शिकायत पर बिजली निगम के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

क्या कहते हैं बिजली अधिकारी

बिजली निगम के एसडीओ आजाद अहमद ने बताया कि वे टीम के साथ मौके पर पहुंचे और जांच की। जिस लाईन से हादसा हुआ है, वह लाईन गांव में पब्लिक हेल्थ के ट्यूबवेल के लिए जा रही है। इस हादसे में बिजली विभाग की कोई लापरवाही नहीं है। बिजली की सर्विस थी, जिसमें कोई फाल्ट हुआ था और हादसा हो गया। निगम को कोई शिकायत पहले नहीं मिली है।

पहले भी हो चुके हैं हादसे

  • हसनपुर थाना इलाका स्थित 31 अक्टूबर 2021 को गांव भिडूकी में एक 3 वर्षीय बच्ची की मौत हुई।
  • 23 फरवरी 2022 को रसूलपुर रोड पर वैल्डिंग मिस्त्री रोबिन की काम करते समय हाईटेंशन तार के करंट से मौत हुई।
  • फरवरी 2019 को डैनी, बॉबी निवासी मोहन नगर की भी बिजली तारों की चपेट में आने से मौत हो गई थी।
  • 11 मई 2022 को जाटोला रोड पर ड्यूटी जाते समय बाइक सवार युवक हाई वोल्टेज तार टूटने से मौत हो गई थी।
  • 30 मई को पेलक गांव में हाई वोल्टेज की चपेट में आने से एक छात्र की मौत हो गई थी।