ढाठरथ में नशे के खिलाफ किया जागरूक:‘नशे से शरीर का नुकसान होने के अलावा पैसे की भी होती बर्बादी’

अलेवा15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ढाठरथ गांव में विद्यार्थियों व शिक्षकों को नशा मुक्त गांव बनाने की शपथ दिलाते थाना प्रभारी हरिओम। फोटो भास्कर - Dainik Bhaskar
ढाठरथ गांव में विद्यार्थियों व शिक्षकों को नशा मुक्त गांव बनाने की शपथ दिलाते थाना प्रभारी हरिओम। फोटो भास्कर

ढाठरथ गांव के एनएस हाई स्कूल में शनिवार को मेरा गांव मेरी शान के तहत नशा मुक्ति जागरूक अभियान के तहत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता प्रिंसिपल अजीत आर्य ने की। इसमें मुख्य तौर पर पिल्लूखेड़ा थाना प्रभारी हरिओम शर्मा ने हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि नशा मनुष्य के शरीर को अंदर से खोखला कर देता है। नशा करने वाले व्यक्ति को समाज व परिवार में कोई भी व्यक्ति मान सम्मान नहीं करता है। उन्होंने कहा कि नशे से शरीर का नुकसान होने के अलावा पैसे की भी बर्बादी होती है।

थाना प्रभारी ने कहा कि पुलिस द्वारा एसपी के आदेशानुसार जिले को नशा मुक्त बनाने के लिए पुलिस द्वारा लगातार अभियान चलाया जा रहा है। विद्यार्थियों को नशे आदि की लत से दूर रहकर शिक्षा पर ध्यान आकर्षित करते हुए अपना व परिवार का भविष्य बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि नशा करने वाले व्यक्ति का ध्यान क्राइम की तरफ बढ़ता है। विद्यार्थियों को ऐसी सामाजिक बुराई से दूर रहकर शिक्षा पर बल देना चाहिए। इस मौके पर सेवानिवृत्त जेई महाबीर सिंह व योगाचार्य सूर्य देव आर्य मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...