छात्रों के लिए मॉक इंटरव्यू सेशन:मॉक इंटरव्यू सेशन रख छात्रों को प्रत्यक्ष इंटरव्यू का अनुभव कराया

कैथल21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राजकीय महाविद्यालय में पर्यटन प्रबंधन विभाग के द्वारा अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए मॉक इंटरव्यू सेशन रखा गया। शुभारंभ प्राचार्या प्रो. सुनीता अरोड़ा ने किया। पर्यटन विभाग के अध्यक्ष प्रो. अनिल ललित ने कहा कि भारत में यात्रा और पर्यटन उद्योग तेजी से बढ़ रहा है और आने वाले वर्षों में और अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद है। भारत में टूरिज्म इंडस्ट्री में 2025 तक 46 मिलियन रोजगार के अवसर पैदा होने की उम्मीद है।

यह एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है जहां सरकार स्थानीय युवाओं के लिए कौशल-आधारित प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारंभ कर रोजगार के बड़े अवसर प्रदान कर रही है। डब्ल्यूटीटीसी के आंकड़ों के अनुसार न केवल भारत में, बल्कि वैश्विक स्तर पर भी यात्रा और पर्यटन उद्योग न केवल विदेशी मुद्रा आय का सबसे बड़ा साधन है। अपितु इस उद्योग से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित होने वाले लोगों की संख्या भी बहुत बड़ी है। मॉक इंटरव्यू के दौरान छात्रों को न सिर्फ प्रत्यक्ष इंटरव्यू का अनुभव प्रदान किया गया बल्कि छात्रों को उनकी कमियों और उन्हें दूर करने के उपायों के बारे में भी बताया गया।

मॉक इंटरव्यू के दौरान छात्रों से पर्यटन उत्पादों के विपणन और विक्रय, ट्रैवल एजेंसियों, अंतरराष्ट्रीय या घरेलू हवाई अड्डों पर ग्राहक ग्राउंड हैंडलिंग (ग्राहक सेवा), टूर ऑपरेटर, इवेंट मैनेजर, टिकट अधिकारी, साहसिक पर्यटन विशेषज्ञ, परिवहन अधिकारी, हॉलिडे कंसल्टेंट, लॉजिस्टिक्स, क्रूज, एयरलाइंस, होटल और सरकारी और निजी क्षेत्रों में पर्यटन विभाग के उत्पादों के बारे में सवाल जवाब किए गए।

विद्यार्थियों से साहसिक पर्यटन के ऋषिकेश पैकेज, दुबई पैकेज, खाद्य उत्पाद, रेलवे टिकट, हवाई टिकट और अन्य उत्पादों के बारे में भी विस्तार से चर्चा की गई। वाणिज्य विभाग से प्रो. गौरव कुमार और प्रो. रामगोपाल ने इंटरव्यू पैनल में सहयोग दिया। प्रो. रामगोपाल ने विद्यार्थियों में नेतृत्व कौशल विकसित करने में ऐसे कार्यक्रमों की महत्वपूर्ण भूमिका बताई। इस मौके पर डाॅ. विकास, डाॅ. लखविंदर सिंह, लैब सहायक सतीश मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...