किसानों ने जताया विरोध:एक घंटे तक मंडी का ताला बंद कर किसानों ने किया नेशनल हाईवे जाम

असंध19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंडी के गेट पर धरने पर बैठकर विरोध जताते किसान। - Dainik Bhaskar
मंडी के गेट पर धरने पर बैठकर विरोध जताते किसान।

नई अनाज मंडी में खरीद एजेंसियों के इंस्पेक्टरों द्वारा 17 फीसदी नमी तक की धान को भी औने पौने दामों में खरीदा जा रहा है। इंस्पेक्टर मॉयश्चर मीटर में चैक करने की बजाए हाथ में धान के दाने लेकर नमी के नाम पर कट लगा रहे हैं। जब मिलर्स और खरीद एजेंसियों के इंस्पेक्टरों के परेशान हो गए तो किसानों ने मंडी के गेट को बंद करके नेशनल हाइवे 709ए को जाम कर दिया। जाम लगाकर किसानों ने मिलर्स और खरीद एजेंसियों के इंस्पेक्टरों के खिलाफ नारेबाजी की।

किसान नेता जोगिंद्र सिंह झींडा, छत्रपाल सिंधड़ ने कहा कि जिन किसानों की धान की नमी 17 से भी कम है। इंस्पेक्टर हाथ में दाने लेकर उसमें भी ज्यादा नमी बताकर उसे 1600 से 1700 रेट में खरीद कर रहे हैं। वहीं मंडी में इंस्पेक्टर सिर्फ आधा घंटा ही खरीद करता है। उसके बाद खरीद की पूर्ण जिम्मेदारी राइस मिलर्स को दे दी जाती है।

मिलर्स ही पूरी मंडी में घूमकर खरीद करते हैं। वहीं जाम की सूचना मिलते ही नायब तहसीलदार रमेश कुमार, मार्केट कमेटी सचिव ओमप्रकाश, आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान सतीश बलहारा मौके पर पहुंचे। जहां किसानों ने तीनों एजेंसियों के इंस्पेक्टरों को खरी खरी सुनाई। नायब तहसीलदार ने भी तीनों को सख्त हिदायत देते हुए बिना किसी गड़बड़ी के खरीद करने के निर्देश दिए। इसके बाद किसानों ने जाम खोल दिया।

चौगामा के किसान ने बाइक में लगाई आग

असंध की नई अनाज मंडी में धान की खरीद न होने से परेशान गांव चौगामा के किसान साहब सिंह ने अपनी बाइक को ही आग के हवाले कर दिया। किसान साहब ने दोपहर करीब तीन बजे बाइक में आग लगाकर सरकार और खरीद प्रणाली के विरूद्ध अपना गुस्सा व्यक्त किया।

साहब 8 एकड़ का जमींदार है। किसानों ने आरोप लगाया कि मंडी में न तो धान डालने की व्यवस्था है। बाइक को आग लगाने वाले किसान ने कहा कि मंडी में 1 अक्टूबर को धान लेकर आया था। अभी तक खरीद नहीं हुई। अब धान में धुंआ उठने लगा है।

खबरें और भी हैं...