पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदोलन:प्योंत टोल पर 16वें दिन जारी रहा धरना, नौवें दिन अनशन पर बैठे पांच किसान

असंध16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

किसान आंदोलन को लेकर 16वें दिन नेशनल हाईवे 709ए स्थित प्योंत टोल टैक्स पर किसानों का आंदोलन जारी रहा। वहीं लगातार नौंवे दिन पांच किसान सुरेंद्र प्यौंत, जस‌वंत सिंह प्यौंत, दलजीत सिंह प्यौंत, मुख्तयार सिंह प्यौंत, गुरमीत सिंह पक्काखेड़ा हड़ताल पर बैठे रहे। किसानों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग की।

धरने की अध्यक्षता शीशपाल कामरेड ने की। वहीं धरने को आंगनवाड़ी वर्कर यूनियन की जिला सचिव बिजनेश राणा ने भी समर्थन दिया। धरने पर बैठे किसानों ने अन्य किसानों से अपील की कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में किसान पहुंचकर कैमला में मुख्यमंत्री मनोहर लाल का विरोध करें। बिजनेश राणा ने कहा कि गांव कैमला में भाजपा सरकार किसान को किसान से लड़वाकर गंदी राजनीति का परिचय दे रही है। इससे कैमला के ग्रामीणों का ही नुकसान है। ग्रामीणों को भाजपा की मंशा को समझकर किसानों के साथ एक जुट होना चाहिए।

बिजनेश राणा ने कहा कि दिल्ली सहित प्रदेश के सभी टोल टैक्सों और सड़कों पर कड़ाके की सर्दी में धरना दे रहे किसानों के आंदोलन का कुचलने का प्रयास किया जा रहा है। भाजपा सरकार की इस मंशा को किसान हर हाल में खत्म कर देंगे। व‌हीं किसान नेता सुक्रमपाल सिंधड़ ने कहा कि इतने लंबे आंदोलन से सरकार घबराई हुई है। अब लोगों को जाति और धर्म की संकीर्ण भावना में उलझाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने किसानों से अपील की कि जहां भी सड़क पर भाजपा का कोई भी नेता दिखाई दे तो उसका वहीं पर विरोध किया जाए। ताकि सरकार को किसानों की ताकत का एहसास हो जाए। दिनभर टोल पर लंगर चलता रहा। इस अवसर पर किसान नेता जोगिंद्र सिंह झींडा, सुक्रमपाल सिंधड़ सहित अन्य किसान मौजूद रहे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser