पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदोलन:दिनभर चला टकराव, बसताड़ा टोल पर 25 किसानों को धरने की अनुमति, फोर्स तैनात

घरौंडा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महिला कॉलेज रोड पर पहुंचे कई किसान, पंजाब से ट्राॅलियों में दिल्ली आंदोलन में जा रहे लोग

बसताड़ा टोल प्लाजा पर किसानों का धरना फिर शुरू हो गया है। साथ ही महिला कॉलेज रोड पर आंदोलनकारियों के लिए लंगर की व्यवस्था की गई है। धरने के दूसरे दिन 25 आंदोलनकारियों को ही टोल पर बैठने की इजाजत मिली। आंदोलनकारियों के मुताबिक, रविवार से टोल पर ही धरना होगा और वहीं पर ही लंगर व्यवस्था चलेगी। पंजाब से भी किसानों की ट्रैक्टर-ट्राॅलियां दोबारा शुरू हो गई हैं।

तीन कृषि कानूनों के विरोध में शुक्रवार को बसताड़ा टोल प्लाजा पर आंदोलनकारियों और प्रशासन के बीच कई घंटे तक टकराव व गहमागहमी रही। इसके बाद धरना प्रदर्शन की अनुमति मिली। किसी तरह की अप्रिय घटना न हो, इसके लिए भारी पुलिस बल टोल पर तैनात किया गया है। शनिवार की सुबह पुलिस अधीक्षक गंगाराम पुनिया ने बसताड़ा टोल प्लाजा की स्थिति का जायजा लिया और अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश भी दिए।

शनिवार की सुबह ही बसताड़ा टोल पर आंदोलनकारी किसान एकत्र हो गए। 25 किसान धरने पर बैठे, जबकि अन्य आंदोलनकारियों को महिला कॉलेज वाली सड़क पर बैठने की अनुमति प्रशासन की ओर से दी गई। किसान नेता जगदीप औलख, राजपाल, हैप्पी औलख व अन्य किसानों का कहना है कि किसान किसी भी सूरत में सरकार के सामने नहीं झुकेंगे।

दिल्ली लालकिला हिंसा के नाम पर किसानों का आंदोलन कमजोर करने का प्रयास किया गया है लेकिन किसानों के आंदोलन को मजबूती मिली है। किसान अपनी मांगों पर अडिग हैं। किसान बड़े ही शांतिपूर्ण तरीके से अपनी मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रशासन ने जो शर्तें किसानों के सामने रखी हैं उनको पूरा किया गया है।

किसान शांतिपूर्ण कर रहे आंदोलन

प्रशासन की तरफ से भी सहयोग मिल रहा है। उन्होंने कहा कि टोल पर 25 किसान धरने पर बैठे हैं, जबकि अन्य किसान साथियों को महिला कॉलेज वाली सड़क पर जगह दी गई है और वहीं पर लंगर व्यवस्था चलाई गई है। रविवार से धरनास्थल के पास ही लंगर व्यवस्था शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा कि किसान शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन कर रहे है और सरकार को भी चाहिए कि किसानों की जो मांग है उसे पूरा करें।

मोहाली से पैदल पहुंचा हितेश

किसानों के समर्थन में मोहाली से दिल्ली के लिए पैदल यात्रा पर निकले हितेश कुमार बसताड़ा टोल प्लाजा पर पहुंचे। यहां किसानों ने हितेश का स्वागत किया। हितेश ने कहा कि सरकार किसानों के साथ गलत कर रही है। सरकार को किसानों की मांग मान लेनी चाहिए। हितेश ने बताया कि वह 29 जनवरी को मोहाली से चला था और पैदल ही दिल्ली किसानों के आंदोलन में समर्थन करने पहुंचेगा।

किसानों के बीच पहुंचे इनेलो नेता अभय चौटाला

​​​​​​​इनेलो नेता अभय चौटाला शनिवार को बसताड़ा टोल प्लाजा पर पहुंचे। यहां पहुंचने पर किसान नेताओं ने चौटाला का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि अभय चौटाला पहले इनेलो के विधायक के तौर पर किसानों के बीच आते थे लेकिन अब ये इस्तीफा देकर किसानों के समर्थन में आए हैं। किसान इनका स्वागत करते हैं। अभय चौटाला ने कहा कि जब भी इस तरह के आंदोलन होते हैं तो सरकार को आंदोलनकारियों की बात को स्वीकार करना पड़ता है। किसानों की मांग नाजायज नहीं है। सरकार ने कानून बनाकर गलती की है। इस गलती को सुधारने का काम सरकार को करना चाहिए। सरकार किसान से माफी मांगें और काले कानूनों को वापस लेकर नए सिरे से एमएसपी का कानून बनाए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें