पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कृषि कानून का विरोध:11 जगह लगेगा जाम, शहर से निकलने को 5 से 10 किमी. लगाना होगा चक्कर, कई रूट किए डायवर्ट

करनालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकारियों की जिम्मेदारी तय, ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त
  • प्रशासन ने लोगों से बहुत जरूरी होने पर ही घर से निकलने की अपील की

शनिवार को जिले में दोपहर 12 से 3 बजे तक 11 जगहों पर जाम रहेगा। इसमें आम पब्लिक जाम लगी जगहों को छोड़कर आराम से निकल सकती है। पुलिस ने भी ट्रैफिक डायवर्ट करने का प्लान बना लिया है। इसमें जाम लगने वाली जगहों से पांच से 10 किलोमीटर का अतिरिक्त चक्कर लगाकर निकल सकते हैं।

शुक्रवार को दिनभर किसान नेता मीटिंग करके रोड जाम करके तीनों कृषि कानूनों का विरोध जताने की प्लानिंग करते रहे।

डीसी निशांत कुमार यादव और एसपी गंगाराम पुनिया ने भी जिन स्थानों से ट्रैफिक को डायवर्ट करना है, उन स्थानों का निरीक्षण किया। सुबह तक ट्रैफिक के अनुसार डायवर्ट किए गए प्लान में फेरबदल भी किया जा सकता है। क्योंकि जाम की स्थिति के अनुसार और ट्रैफिक के आकलन के अनुसार अलग-अलग रूट्स तय किए हैं। ताकि एक ही सड़क पर जाम की स्थिति न बने।

डीएसपी जगदीप दून ने कहा कि लोगों से अपील है कि जाम लगने के टाइम पर कम से कम ट्रैफिक आवागमन करें। पुलिस की कोशिश रहेगी कि सभी स्थानों पर डायवर्ट किए गए प्लान के अनुसार ट्रैफिक चलता रहे। किसानों की तरफ से जिन 11 स्थानों पर जाम लगाने का ऐलान किया है, वहां पर शांति व्यवस्था के लिए पुलिस फोर्स को लगाया गया है। ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किए हैं।

इस रूट का करें उपयोग

दिल्ली से चंडीगढ़ : पैप्सी पुल, मुनक, गगसीना, गोगड़ीपुर, करनाल ब्रह्मानंद चौक, नमस्ते चौक। चंडीगढ़ से दिल्ली : कुटेल , बसताड़ा , घरौंडा। यूपी से करनाल : मेरठ रोड, कैरवाली, रावर, मेरठ रोड करनाल। करनाल से यूपी: मेरठ रोड, शेखपुरा सुहाना, रसूलपुर कला, मोहद्दीनपुर, डाकवाला, मेरठ रोड करनाल। कैथल से करनाल: ब्रास, कुई, ब्रास, निसिंग। करनाल से कैथल : बस स्टैंड निसिंग, गुलरपुर रोड, गोंदर, रणजीत नगर, बदनारा चौक । करनाल से असंध: प्योंत, गुलरपुर, पक्का खेड़ा चौक। जींद से असंध : बाईपास असंध। असंध से जींद : बाईपास असंध। मुनक से असंध: रेरकला, धर्मगढ़ चौक, मोरमाजरा, गोली, सालवन, असंध। नीलोखेड़ी से ढांड : पतनपुरी, पस्ताना, रायसन, कोल। ढांड से नीलोखेड़ी : कारसा ढोड, सकरा, माजरा रोड़ान, कोयर, सावंत, भूखपुरी, जाम्भा। करनाल से इंद्री: गांव बयाना, भिड़माजरी, चांद समंद, चोरपुरा। करनाल से ढांड : काछवा नहर पुल, कैथल नहर पुल, निसिंग, शाम्भली, सीतामाई, ढांड। ढांड से करनाल : सग्गा, सोकड़ा, तरावड़ी। करनाल से इंद्री: दरड़, संगोहा, चुरणी, करनाल मेन रोड। इंद्री से करनाल: समोरा, खेड़ीमान सिंह, रम्भा, जीटी रोड करनाल।

राहत : जाम के दौरान इमरजेंसी वाहनों को रहेगी छूट
निसिंग के गुरुद्वारा रोड़ी साहिब में एरिया के किसान नेताओं ने जाम लगाने की रूपरेखा तैयार की। इसकी अध्यक्षता भाकियू ब्लाॅक प्रधान अमन सिंह बब्बर ने की। इस दौरान उन्होंने निसिंग के करनाल कैथल रोड स्थित गुरुद्वारा चौक पर जाम लगाने का निर्णय लिया। वहीं भाकियू सचिव अशरफ, मेजर सिंह, जानपाल सिंह, जसवंत लागर, गुरविंद्र सिंह, अमन बल, कर्मबीर सिंह का कहना है कि चक्का जाम के दौरान यदि एंबुलेंस, बीमार आदमी व सेना के वाहनाें काे निकाला जाएगा।

तीन कृषि कानून वापस नहीं लेने तक विरोध जारी रहेगा
शहर के गुरुद्वारा डेहरा साहिब में भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा नेशनल और स्टेट हाईवे पर जाम लगाने को लेकर रणनीति तैयार की। अध्यक्षता प्रधान जीवन सिंह ने की। वहीं किसानों ने रणनीति बनाई कि 6 फरवरी को नेशनल हाईवे 709ए स्थित प्याेंत टोल प्लाजा पर किसान जाम लगाएंगे। प्रधान जीवन सिंह, उपप्रधान छत्रपाल सिंधड़, हर गांव के किसानों की भागेदारी आवश्यक है। जब तक सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं ले लेती, तब त‌क अलग-अलग तरीके से किसानों का विरोध जारी रहेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें