पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीनेशन में चौथे नंबर पर करनाल:26 फीसदी आबादी को लगा टीका, 12 % को दूसरी डोज भी; तीसरी लहर की तैयारी शुरू

करनालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर आईसीयू व एनआईसीयू में बेड तैयार। - Dainik Bhaskar
तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर आईसीयू व एनआईसीयू में बेड तैयार।
  • , मेडिकल कॉलेज में बच्चों के लिए 60 बेड का वार्ड तैयार

जिल में कोरोना वैक्सीन लगवाने का आंकड़ा चार लाख की दहलीज पर पहुंच गया है। शुक्रवार तक जिले 3,97,406 लोगों को वैक्सशीन लग चुकी है। शनिवार तक चार लाख का आकड़ा पार होने की संभावना है। इस आंकड़े के साथ करनाल वैक्सीनेशन के मामले में गुरुग्राम, फरीदाबाद, अंबाला के बाद प्रदेश में चौथे नंबर पर पहुंच गया है।

2011 की जनगणना के अनुसार करनाल की आबादी 15 लाख पांच हजार है। इसमें 3,27,578 लोगों को एक डोज और 69,828 को दोनों डोज लग गई है। इस तरह से देखें तो पहली डोज 26 फीसदी आबादी को और 12 फीसदी आबादी को दोनों डोज लगी है। शुक्रवार को 39 सेंटरों पर 1550 को कोरोना की डोज लगाई गई। शनिवार को बलड़ी बाइपास पर शहर के लोगों को कोरोना की डोज लगाई जाएगी।

बच्चों के लिए 10 वेंटिलेटर की डिमांड भेजी, जल्द आएंगे

तीसरी लहर को देखते हुए मेडिकल कॉलेज प्रबंध शुरू कर दिए हैं। बच्चों के लिए काॅलेज में 20 पीआइसीयू, 14 एनआईसीयू बेड और 60 बेड का वार्ड बनाया गया है। मेडिकल काॅलेज में 2 वेंटिलेटर की व्यवस्था की है। नवजात बच्चों के लिए 10 वेंटिलेटर की डिमांड सरकार को भेजी है। कल्पना चावला राजकीय मेडीकल कॉलेज के निदेशक डॉक्टर जगदीश दुरेजा ने बताया कि माना जा रहा है कि तीसरी लहर का प्रकोप बच्चों पर आएगा।

इसके लिए सभी तैयारियां पहले से ही पूरी की जा रही हैं। जिले मे ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। बच्चों के लिए बेडों की पूरी व्यवस्था है। इसके लिए अलग से वार्ड बनाया गया। किसी भी व्यक्ति को घबराने की कोई जरूरत नही है, मेडिकल कालेज में नवजात शिशु के साथ साथ बडे बच्चों के लिए सभी तैयारियां कर ली हैं।

दो माह से बंद पड़ी थी मेडिकल कॉलेज में सर्जरी, अब शुरू हुई

कोरोनाकाल में दो माह से बंद पड़ी सामान्य सर्जरी कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में शुरू कर दी है। सामान्य सर्जरी शुरू होने से मरीजों को बड़ी राहत मिली है। 300 के करीब सर्जरी पेडिंग थी, पहले दिन चार सर्जरी की गई है। कल्पना चावाला मेडिकल कॉलेज में प्रतिदिन 25 सर्जरी करने का टारगेट रखा है, ताकि लोगों को जल्दी इलाज मिल सके।

शनिवार को ज्यादा सर्जरी की जाएगी। अगले सप्ताह सोमवार को गायनी विभाग भी कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट हो जाएगा। फिलहाल कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी की जा रही थी। लेकिन अगले सप्ताह सामान्य महिलाओं को भी कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में दाखिल किया जाएगा, वहीं पर डिलीवरी भी होगी।

खबरें और भी हैं...