पुलिस भर्ती परीक्षा में फर्जीवाड़ा:दूसरे के स्थान पर परीक्षा दे रहे 3 आराेपी व कर्ण लेक से इनके दाे साथी गिरफ्तार

करनाल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपी विक्की बोला- मेरी जगह पेपर देने वाले बिजेंद्र को देने हैं दो लाख रुपए

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की तरफ से सिपाही पद की लिखित परीक्षा में शनिवार को करनाल के दो सेंटरों से दूसरे के स्थान पर परीक्षा देते हुए तीन आरोपियों व दो इनके सहयोगियों को गिरफ्तार किया है। वहीं, दो आरोपी फरार हाेने में कामयाब हो गए। फरार हुए आराेपियाें में एक हरियाणा पुलिस का कर्मचारी भी है। पांच आरोपी एक ही गैंग के हैं। इसमें एक आरोपी विक्की ने खुलासा किया है कि उसकी जगह बिजेंद्र पेपर दे रहा था, जिसको पेपर देने की एवज में दो लाख रुपए देने हैं। इनके अलावा एक सेंटर से नकल कर रहे एक आरोपी को भी गिरफ्तार किया है। फिलहाल पुलिस इससे पूछताछ कर रही है। करनाल पुलिस की डिटेक्टिव स्टॉफ टीम मामले की जांच कर रही है।

गिरफ्तार आराेपियाें में दाे राेहतक और दाे साेनीपत के : पुलिस ने डीएवी पीजी कॉलेज से आरोपी रोनक पुत्र महाबीर निवासी महारा गांव सोनीपत, विक्की पुत्र रामकरण निवासी खूबड़ू गांव साेनीपत, मोहित निवासी एकता कॉलोनी रोहतक, बिजेंद्र पुत्र अजीत निवासी मारोत झज्जर को और एसडी माॅडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल से आरोपी रंजन आलोक निवासी लखनऊ, यूपी और इंद्री रोड स्कूल से नकल कर रहे आरोपी अजय पुत्र मुकेश निवासी टिटौली गांव रोहतक को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा दो आरोपी फरार हैं। आरोपियों के पास से एडमिट कार्ड, आधार कार्ड, परीक्षा केंद्रों की सूची, रोहतक के विद्या भारती पब्लिक के प्रिंसिपल की मोहर, एक शिफ्ट कार बरामद की है। आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। आरोपियों को रविवार को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...