पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Karnal
  • After Spending 153 Crores Sewer And Water Problem Persists, Trouble With Excavation, 2 Years Of Work Not Completed Even In 3 Years

करनाल:153 करोड़ खर्च के बाद सीवर व पानी की समस्या बरकरार, खुदाई से मुसीबत, 2 साल के काम 3 साल में भी नहीं हुए पूरे

करनालएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
करनाल. दुर्गा कॉलोनी रोड पर पेयजल पाइप लाइन डालने के बाद उखड़ी पड़ी सड़क को दिखाते हुए लोग
  • अमरुत योजना के तहत शहर में सीवरेज, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, पेयजल व बरसाती पानी निकासी के प्रोजेक्ट पड़े अधूरे

शहर को सीवरेज व बरसाती पानी की निकासी की समस्या से निजात और सबको शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए चल रही अमरुत योजना की कछुआ चाल लोगों को मुसीबत बनी है। 153 करोड़ खर्च होने के बाद भी ये समस्या तो बरकरार ही हैं, इनको लेकर हुई खोदाई के चलते मुसीबत और बढ़ रही है। तीन साल पहले पहले हुए इसके प्रोजेक्ट डेडलाइन से दो गुना समय बीतने के बाद 30 से 40 फीसद तक अधूरे हैं।

इनका काम करने वाली तीनों एजेंसियों पर अबतक करीब 24-25 करोड़ का जुर्माना भी लगाया गया है लेकिन काम गति नहीं पकड़ पा रहा है। अब उन्हें 31 दिसंबर तक डेड लाइन दी गई है लेकिन नहीं लगता है नहीं कि यह पूरा हो पाएगा। पेयजल और सीवरेज लाइन के लिए खोदाई के चलते इसके चलते कैलाश, फूसगढ़, इंद्री रोड पर सीवरेज व डब्ल्यूजेसी के साथ सहित कई क्षेत्रों में कहीं सड़क निर्माण अटका है। यहां रोजाना हादसे हो रहे हैं?

सीवरेज पाइप लाइन

दो डेडलाइन पार, अब 31 दिसंबरपहले यह कार्य 178 करोड़ का था। बाद में 123 करोड़ कर दिया गया। इसमें एसटीपी का बजट भी शामिल है। 152 किमी पाइप लाइन बिछानी थी, 132 किमी बिछी है। 70 करोड़ रुपए खर्च हो चुका है। पाइपलाइन बिछाने के बाद कनेक्शन और दूसरे काम बाकी है। काम पूरा न होने प टाटा कंपनी पर 12 करोड़ रु की पेनल्टी लगाई गई। अब 31 दिसंबर तक इसे पूरा करना है।

सीवरेज प्लांट: एजेंसी पर 12 करोड़ का जुर्माना

शहर में फुसगढ़ और शिव कॉलोनी में 20 और 8 एम एलडी के दो एसटीपी बनना है। तकरीबन 40 करोड़ के प्रोजेक्ट में 22 करोड़ खर्च हो चुके हैं लेकिन 65 प्रतिशत काम ही पूरा हुआ है।

डीसी एवं नगर निगम कमिश्नर की तरफ से कांट्रेक्टर एंजेसियों को डेडलाइन के तहत कार्य करने की हिदायतें दी है। स्ट्रॉम वाटर ड्रेन में देरी पर केकेएसआईएल 8 करोड़ से ज्यादा की पेनेल्टी भी लगाई है। एजेंसी को अब फरवरी तक काम पूरा करना है। जो काम में देरी करेगी और दिसंबर तक काम पूरा नहीं होगा तो रिस्क एंड कॉस्ट पर अन्य कंपनी से काम कराया जाएगा। सतीश शर्मा, एक्सईएन नगर निगम करनाल।

स्ट्रोम वाटर ड्रेन: दो बीते नवंबर में पूरा होना था काम

स्ट्रॉम वाटर ड्रेन 50 किमी लंबी लाइन बिछाने के साथ पांच रेन वाटर हार्वेस्टर और तीन आईपीएस बनने हैं। इसपर 85.5 करोड़ रुपए खर्च होने हैं। इसमें 31 किमी ही लाइन बिछी है। दो रेनवाटर हार्वेस्टर और दो आईपीएस का काम चल रहा है। बाकी काम शुरू होने हैं। दो डेडलाइन बीतने के बाद काम पूरा न होने पर काम करने वाली एजेंसी केकेएसआईएल 8.50 करोड़ जुर्माना लगाया है। अभी तक 53 करोड़ रुपए ही खर्च हुए हैं।

पेयजल पाइप लाइन: मार्च में होना था कार्य, अब दिसबंर तक पूरा करना है

शहर में नई अप्रूव्ड कॉलोनियों में 49 किमी लाइन डाली जानी हैं। अभी तक 45 किमी का काम ही हो पाया है। 13.05 करोड़ के प्रोजेक्ट में 8 करोड़ हुए हैं हैं। अभी इसमें करीब 10 फीसद लाइन बिछाने का काम ही बाकी है। बाकी कनेक्शन आदि के काम हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें