CTET 2021 के लिए 19 तक करें आवेदन:20 भाषाओं में CBT मोड में दिसंबर-जनवरी में एग्जाम; पेपर का पैटर्न बदला, हरियाणा में CTET और HTET का एक समान दर्जा

करनाल19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

CTET (सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट) दिसंबर 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। आवेदन की अंतिम तिथि 19 अक्टूबर 2021, रात 11:59 बजे तक है। उम्मीदवार आवेदन शुल्क 20 अक्टूबर, दोपहर 3:30 बजे तक जमा कर सकते हैं। परीक्षा 16 दिसंबर 2021 से शुरू होगी और 13 जनवरी 2022 तक चलेगी। इस बार कंप्यूटर आधारित टेस्ट (CBT) मोड में CTET के 15वें संस्करण का आयोजन होगा। परीक्षा पूरे देश में 20 भाषाओं में आयोजित की जाएगी।

आवेदन शुल्क: पेपर-1 के लिए आवेदन करने हेतु जनरल और ओबीसी उम्मीदवार के लिए 1000 रुपए और दोनों पेपरों के लिए 1200 रुपए। एससी (SC), एसटी (ST) और पीडब्ल्यूडी (PWD) उम्मीदवारों के लिए, पेपर-1 के लिए आवेदन शुल्क 500 रुपए और दोनों पेपरों के लिए 600 रुपए

एग्जाम पैटर्न बदला: सीबीएसई ने जुलाई 2021 में केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) 2021 परीक्षा पैटर्न में संशोधन को लेकर जरूरी नोटिफिकेशन जारी किया था। आधिकारिक नोटिफिकेशन के अनुसार, कम तथ्यात्मक ज्ञान और अधिक वैचारिक समझ, आवेदन, समस्या-समाधान, तर्क और महत्वपूर्ण सोच का आंकलन करने के लिए प्रश्न पत्र तैयार किए जाएंगे। सीबीएसई नए सैंपल पेपर्स और ब्लूप्रिंट्स भी जल्द जारी करेगा।

हरियाणा में मान्यता: हरियाणा सरकार ने पिछले दिनों CTET को HTET के बराबर का दर्जा दे दिया था। ऐसे में टीचिंग में आने के इच्छुक युवाओं ने CTET करने में काफी रुचि दिखाई है। इस बार पहले से ज्यादा पात्र परीक्षा में हिस्सा लेंगे।

दो चरणों में होगा एग्जाम

सीटेट एग्जाम ऑनलाइन और दो चरणों में होगा। परीक्षा के लिए ढाई घंटे का समय मिलेगा। दो पेपर होते हैं। पहला पेपर एक से 5वीं कक्षा तक पढ़ाने के इच्‍छुक आवेदकों के लिए। दूसरा पेपर छठी से 8वीं तक के शिक्षक बनने वाले उम्मीदवारों के लिए है। उम्मीदवार दोनों परीक्षाएं भी दे सकते हैं, लेकिन अगर वे शर्तें पूरी करते हैं तो ही एग्जाम दे सकते हैं। सभी प्रश्‍न मल्‍टीपल च्वॉइस के होंगे। कोई निगेटिव मार्किंग नहीं है।

पेपर पैटर्न में हुए ये बदलाव

पहला पेपर: चाइल्‍ड डेवलपमेंट एंड पेडागॉगी (30 प्रश्‍न), लैंग्‍वेज एक (30 प्रश्‍न), लैंग्‍वेज दो (30 प्रश्‍न), मैथमेटिक्‍स (30 प्रश्‍न) तथा एनवायर्नमेंट स्‍टडीज (30 प्रश्‍न) से प्रश्‍न पूछे जाएंगे। इस तरह 5 खंडों से कुल 150 प्रश्‍न (150 अंक) पूछे जाएंगे। चाइल्‍ड डेवलपमेंट एंड पेडागॉगी, लैंग्‍वेज एक व दो का खंड अनिवार्य होगा।

दूसरा पेपर: चाइल्‍ड डेवलपमेंट एंड पेडागॉगी (30 प्रश्‍न), लैंग्‍वेज एक (30 प्रश्‍न), लैंग्‍वेज दो (30 प्रश्‍न) के अलावा चौथा खंड वैकल्पिक होगा। इसमें मैथमेटिक्‍स एंड साइंस (60 प्रश्‍न/साइंस टीचर के लिए) तथा सोशल स्‍टडीज/सोशल साइंस (60 प्रश्‍न/सोशल साइंस टीचर के लिए) होंगे। इन दोनों खंड में से कोई एक ही करना होगा। कुल 150 प्रश्‍न पूछे जाएंगे।

पास होने के लिए 60% अंक अनिवार्य

CTET क्लीयर करने के लिए 60 प्रतिशत या उससे अधिक अंक होने चाहिएं। आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवार को छूट है। नए नियम के अनुसार, सीटेट क्‍वालिफाइंग सर्टिफिकेट की वैधता अब लाइफटाइम के लिए होगी। एक बार यह परीक्षा उत्‍तीर्ण करने के बाद दोबारा परीक्षा नहीं देनी होगी। परीक्षा देने के अवसरों की कोई निर्धारित सीमा नहीं है। स्‍कोर सुधारने के लिए दोबारा परीक्षा दे सकते हैं।

खबरें और भी हैं...