पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आत्महत्या:दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी देने पर बैंक कर्मचारी ने किया सुसाइड, तीन लोगों पर मजबूर करने के आरोप में केस दर्ज

करनाल8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने के आरोप में एक बैंक कर्मचारी जगदीश कुमार ने सुसाइड कर लिया। शुक्रवार को पुलिस ने कल्पना चावला राजकीय मेडिकल काॅलेज में पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। सेक्टर-32-33 थाना पुलिस ने ब्लैकमेलिंग, पैसे ऐठने, झूठे केस में फंसाने की धमकी, मानसिक तनाव व आत्महत्या करने पर मजबूर करने के आरोप में आरोपी पवन, किरण व संजीव के खिलाफ केस दर्ज किया है।

राजीवपुरम निवासी शारदा देवी ने शिकायत दी कि मेरे पति जगदीश कुमार बैंक ऑफ इंडिया में कार्यरत थे। आरोपियों की तरफ से लगातार ब्लैकमेलिंग व पैसे की डिमांड की जाती थी। उनकी रिटायरमेंट करीब 3 महीने बाद होनी थी। आरोपी बार-बार ब्लैकमेल करते थे। यहां तक की यह धमकी दी जाती थी कि यदि पैसे नहीं दिए तो दुष्कर्म के आरोप में झूठा पर्चा दर्ज करवा देंगे।

आरोपियाें ने झूठा नोटिस 11 जनवरी काे भिजवाया, जब यह नोटिस मिला तो मेरे पति बहुत टेंशन में आ गए और घर आकर रोने लगे। पूछने पर बताया कि आरोपियाें ने भारी रकम की डिमांड की है और मुझे धमकी देते हैं कि झूठा केस दर्ज करवा देंगे। तब हमारे पूरे परिवार ने उनको ढांढस बंधाया और कहा कि पुलिस काे शिकायत करते हैं। उन्होंने परेशान होकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस को दी शिकायत में लिखा है कि दम तोड़ने से पहले उन्होंने एक डायरी में सुसाइड नोट छोड़ रखा है और करीब पांच लाख रुपए आरोपी हड़प चुके हैं। पुलिस ने शिकायत के आधार पर कार्रवाई कर दी है।

खबरें और भी हैं...