पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी का मामला:विदेश भेजने का झांसा दे तीन लड़कों से 8.4 लाख की ठगी

करनाल14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भेजना था रोमानिया और भेज दिया अरमेनिया, केस

विदेश भेजने का झांसा देकर तीन लड़कों से करीब 8 लाख 4 हजार रुपए की धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर एजेंट के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। गांव बिर्चपुर के संदीप कुमार, बसंत विहार के जोनी कुमार व राकेश ने शिकायत दी है कि वर्ष 2019 में रोजगार की तलाश में थे।

इसी बीच आरोपी राजेश कुमार उर्फ राजू से मुलाकात हुई, जो लाेगाें विदेश भेजने का काम करता है। आरोपी ने कहा कि वह उन्हें यूरोप में भेज देगा और वहां पर उनका 10 साल का रोमानिया का आईडी कार्ड बनवा देगा। आरोपी राजेश कुमार उर्फ राजू ने अलग -अलग तारीखों में पीड़ित संदीप कुमार से 7 लाख 50 हजार रुपए, जोनी कुमार व राकेश के 8 लाख रुपए प्रति व्यक्ति का खर्चा बताया गया।

आरोपी ने विश्वास दिलाया कि आप कुछ पैसे पहले दे देना और बाकि राशि यूरोप पहुंचने के बाद काम करके दे देना। आरोपी के इस प्रकार के विश्वास दिलाने पर हम उसके झांसे में आ गए। हमने उसे विदेश जाने के लिए हां कर दी। पीड़ित संदीप कुमार व उसके परिवार ने आरोपी को अलग - अलग में तारीखों 3 लाख 74 हजार रुपए नकद दे दिए गए।

पीड़ित जोनी कुमार व उसके परिवार ने आरोपी को अलग- अलग तारीखों में 2 लाख 30 हजार रुपए दे दिए। पीड़ित राकेश व उसके परिवार ने आरोपी को अलग- अलग तारीखों में 2 लाख रुपए दिए। इसके बाद आरोपी ने हमारा अरमेनिया का वीजा लगवाया।

जब हमने उसको कहा कि हमारी बात रोमानिया के कार्ड की हुई है। फिर तुम यह अरमेनिया का वीजा क्यों दे रहे हो तो उसने बोला कि आपको अरमेनिया में एक सप्ताह ठहरना होगा। वहां से यूरोप चले जाओगे। उसने 2 जुलाई 2019 को हम तीनों से भारत से अरमेनिया के लिए भेज दिया। वहां अरमेनिया में हम 3 महीने रहे। आरोपी ने हमें अरमेनिया से आगे यूरोप में नहीं भेजा। जिस पर हमने आरोपी से बात की।

पहले तो आरोपी ने आश्वासन दिया कि आपका काम जल्दी हो जाएगा, लेकिन फिर भी उसने हमें कहीं नहीं भेजा। हम बार -बार उससे हमें यूरोप भेजने के बारे में कहते रहे। इसके बाद हमारे परिवारजनों ने हमारी वापसी की टिकट अपने खर्च पर कराई और हम अक्टूबर 2019 को इंडिया वापिस आ गए।

अरमेनिया से वापस आने के बाद हमने कई बार आरोपी राजेश कुमार उर्फ राजू से अपने पैसे वापस मांगे। हमारे पैसे लौटाने से साफ इंकार कर दिया। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...