• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Karnal
  • Dengue Broke 10 year Record, With Ten New Cases The Figure Reached 243, Private Hospitals Were Not Sending Samples

डेंगू का डंक:डेंगू ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड, दस नए केस के साथ आंकड़ा 243 पहुंचा, निजी अस्पताल नहीं भेज रहे सैंपल

करनाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सर्दी होने के बाद भी डेंगू की रफ्तार नहीं हो रही कम, लगातार आ रहे मरीज

सर्दी बढ़ने के बाद भी डेंगू की रफ्तार कम नहीं हो रही है। शुक्रवार को डेंगू के 10 नए केस आए है। जिले में डेंगू का आंकड़ा 243 पर पहुंच गया है। डेंगू ने दस साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। सिविल व कल्पना चावला में अभी भी बुखार व डेंगू के मरीज आ रहे हैं। इस बार देरी तक बारिश व फॉगिंग में खानापूर्ति के चलते डेंगू के केस बढ़े है। शहरी क्षेत्रों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी डेंगू केस आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि अगले तीन से चार दिन में डेंगू के मरीज कम हो जाएंगे।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से डेंगू के अभी तक 3 हजार 866 टेस्ट ही लिए गए हैं, जिनमें 243 केस डेंगू के पॉजिटिव आ चुके हैं। यदि डेंगू के सैंपल रैपिड कार्ड की जगह एलाइजा से होते तो डेंगू का आंकड़ा सैकड़ों की जगह हजारों में होता। प्राइवेट अस्पतालों की ओर से डेंगू के रैपिड केस एलाइज के लिए काफी कम भेजे गए।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा मरीजों को प्लेटलेट्स देने के लिए कोई भी उचित कदम नहीं उठाए गए। जिन मरीजों को प्लेटलेट्स की जरूरत नहीं थी उन मरीजों ने प्लेटलेट्स ली। जिससे प्लेटलेट्स की डिमांड बढ़ी। स्वास्थ्य विभाग की ओर से करीब 30 जंबो किट व इसके अलावा कल्पना चावला की ओर से कुछ किट दी गई। जबकि विभाग को चाहिए था कि जंबो किट की व्यवस्था समय अनुसार करनी चाहिए थी।

विभाग ने डेंगू को रोकने के लिए किए प्रयास

स्वास्थ्य विभाग टीम की ओर से डेंगू को रोकने के लिए 3 लाख 85 हजार 580 घरों को चैक किया। इसमें 6 हजार 596 घरों में डेंगू मच्छरों का लार्वा मिलने पर पॉजिटिव पाए गए हैं। 3 हजार 896 व्यक्तियों को डेंगू के प्रति लापरवाही बरतने पर नोटिस दिया गया है। डेंगू के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए 5 हजार 160 पंपलेट बांटे गए व 21 होर्डिंग बोर्ड लगाए गए।

खबरें और भी हैं...