पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निरीक्षण किया:शहर में चार जगहों पर बनाया जाएगा बरसाती पानी निकासी के लिए नाला

करनाल9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

विकास कार्य शुरू करने से पहले उनकी फिजिबिलिटी चैक करने और उन जगहों पर जरूरत के हिसाब से कार्य करने को लेकर नगर निगम कमिश्नर डॉ. मनोज कुमार ने वार्ड नंबर 3, 4, 5, 13 व 14 की साईट का दौरा किया। निगम कमिश्नर ने सर्वप्रथम वार्ड 14 में भगवाड़िया गैस एजेंसी के सामने गोशाला रोड का निरीक्षण किया। इस जगह पर बरसाती पानी की निकासी के लिए पाईप लाइनें डाले जाने का अनुमान तैयार किया गया था। निगम आयुक्त ने इस क्षेत्र का मौका मुआयना कर नगर निगम अभियंताओं को निर्देश दिए कि पाईप लाईन डालने की बजाए यहां ओपन ड्रेन को उचित तरीके से बनाएं, ताकि उसके जरिए पर्याप्त पानी निकासी हो सके। ड्रेन पर मजबूत स्लैब भी डालें, क्योंकि इस रोड से भारी वाहनों का भी आना-जाना लगा रहता है। उन्होंने बताया कि गोशाला रोड पर करीब 900 मीटर लंबाई की ओपन ड्रेन बनने से इस क्षेत्र में बरसाती पानी नहीं जमा हो पाएगा, जिससे यहां के नागरिकों को सुविधा मिलेगी। कमिश्नर ने कर्ण पब्लिक स्कूल के पास पुलिया की टूटी स्लैब को देख, तुरंत उसे बदलने के निर्देश दिए।

इसके पश्चात निगम कमिश्नर ने वार्ड 13 सदर बाजार में लक्कड़ मार्केट रोड पर स्थित नाले का निरीक्षण किया। उन्होंने वार्ड 3 के डेफिसिएंट एरिया विकास नगर का निरीक्षण किया। इस कार्य में फूसगढ़ रोड पर स्थित प्रकाश पब्लिक स्कूल के पीछे की करीब 2500 फुट लंबाई की गलियों में स्टार्म वाटर की पाईप लाइनें बिछाने के साथ-साथ इंटरलॉकिंग पेवर ब्लॉक्स से पक्की गलियों का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने एक्सईएन अक्षय भारद्वाज को निर्देश दिए कि इस कार्य का वर्क ऑर्डर जल्दी जारी करें तथा इसी सप्ताह में काम को शुरू करवाएं, ताकि यहां के नागरिकों को कच्ची गलियों से छुटकारा दिलाया जा सके।

कर्ण विहार में अभी नहीं बनेगी सड़कें, कमिया होंगी दुरुस्त
नगर निगम कमिश्नर ने वार्ड 4 के कर्ण विहार क्षेत्र का निरीक्षण किया। इस क्षेत्र की कुछ गलियों को पुन: बनाने की मांग निगम में आई थी। इन गलियों की मौजूदा हालत देखने के मकसद से कमिश्नर ने यहां का दौरा किया और पाया कि अभी इन गलियों की कंडीशन ठीक है, इन्हें फिलहाल नया बनाना उचित नहीं होगा। उन्होंने मौके पर मौजूद जेई को निर्देश दिए कि इन गलियों में जहां-जहां भी जो थोड़ी बहुत कमी है, उसे दुरूस्त करवाएं, ताकि यहां के नागरिकों को परेशानी न हो। इस अवसर पर कार्यकारी अभियंताओं में अक्षय भारद्वाज, मोनिका शर्मा, प्रियंका सैनी, सहायक अभियंता सुनील भल्ला, मदन मोहन गर्ग व सतीश मित्तल तथा कनिष्ठ अभियंता कृष्ण कुमार, सोहन लाल तथा लक्की पंवार मौजूद भी रहे।

खबरें और भी हैं...