14 तस्वीरों में देखिए, आज करनाल के हाल:जगह-जगह तैनात पुलिस और सुरक्षा बल के जवान; ट्रक अड़ाकर ब्लॉक किए गए रास्ते, इंटरनेट बंद, शहर में एंट्री बैन

करनाल10 महीने पहले

भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर करनाल में किसान महापंचायत करके लघु सचिवालय का घेराव करने जा रहे हैं, इसलिए हरियाणा सरकार और करनाल प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हुए हैं। जगह-जगह पुलिस और सुरक्षा बल के जवान तैनात हैं। इंटरनेट सेवा बंद है। करनाल शहर में हाईवे से एंट्री बैन है। न शहर वाले हाईवे पर आ सकते हैं और न ही हाईवे से उतरकर कोई शहर में घुस सकता है।

एक तरह से करनाल शहर सील है। अनाज मंडी के सभी पांचों प्रवेश द्वारों पर पैरामिलिट्री फोर्स लगाई गई है, ताकि किसान शहर में घुस ही न सकें। साथ लगते इलाकों को भी सील कर दिया है। पुलिस ने रेत से भरे ट्रक अड़ाकर रास्ते ब्लॉक कर दिए हैं। जीटी रोड से लघु सचिवालय तक आने वाले रास्ते और शहर से लघु सचिवालय तक पहुंचने वाले रास्तों को ब्लॉक किया गया है।

पैरामिलिट्री फोर्स समेत सुरक्षाबलों की 40 कंपनियां तैनात की गई हैं। पुलिस की 30 कंपनियां और पैरामिलिट्री फोर्स की 10 कंपनियां लगाई गई हैं। 5 SP और 25 DSP की ड्यूटी है। वॉटर कैनन और ड्रोन भी तैनात हैं। करनाल, गुड़गांव, रोहतक, हिसार, रेवाडी रेंज की फोर्स आई हुई है। 10 कंपनियों में BSF, CRPF, RAF, ITBP शामिल हैं। मेवात, भिवानी, रेलवे अंबाला, कैथल और पानीपत के SP भी ड्यूटी पर हैं। पूरे जिले में धारा 144 लागू है।

करनाल का प्रवेश द्वार इस तरह से सील किया गया है।
करनाल का प्रवेश द्वार इस तरह से सील किया गया है।
करनाल के प्रवेश द्वारा पर अड़ाकर खड़े किए रेत से भरे ट्रक।
करनाल के प्रवेश द्वारा पर अड़ाकर खड़े किए रेत से भरे ट्रक।
करनाल शहर में हाईवे एंट्री बैन है। न शहर वाले हाईवे पर आ सकते हैं और न ही हाईवे से उतरकर कोई शहर में घुस सकता है।
करनाल शहर में हाईवे एंट्री बैन है। न शहर वाले हाईवे पर आ सकते हैं और न ही हाईवे से उतरकर कोई शहर में घुस सकता है।
पुलिस की 30 कंपनियां लगाई गई हैं। इन्हें शहर के अंदर तैनात किया गया है। में घुस ही न सकें।
पुलिस की 30 कंपनियां लगाई गई हैं। इन्हें शहर के अंदर तैनात किया गया है। में घुस ही न सकें।
वॉटर कैनन और ड्रोन भी तैनात हैं। करनाल, गुड़गांव, रोहतक, हिसार, रेवाडी रेंज की फोर्स आई हुई है।
वॉटर कैनन और ड्रोन भी तैनात हैं। करनाल, गुड़गांव, रोहतक, हिसार, रेवाडी रेंज की फोर्स आई हुई है।
पैरामिलिट्री फोर्स समेत सुरक्षाबलों की 40 कंपनियां तैनात की गई हैं। 5 SP और 25 DSP की ड्यूटी है।
पैरामिलिट्री फोर्स समेत सुरक्षाबलों की 40 कंपनियां तैनात की गई हैं। 5 SP और 25 DSP की ड्यूटी है।
मेवात, भिवानी, रेलवे अंबाला, कैथल और पानीपत के SP भी ड्यूटी पर हैं।
मेवात, भिवानी, रेलवे अंबाला, कैथल और पानीपत के SP भी ड्यूटी पर हैं।
करनाल में पैरामिलिट्री फोर्स के साथ BSF, CRPF, RAF, ITBP की कंपनियां भी तैनात हैं।
करनाल में पैरामिलिट्री फोर्स के साथ BSF, CRPF, RAF, ITBP की कंपनियां भी तैनात हैं।
अनाज मंडी के सभी पांचों प्रवेश द्वारों पर पैरामिलिट्री फोर्स लगाई गई है, ताकि किसान शहर में घुस ही न सकें।
अनाज मंडी के सभी पांचों प्रवेश द्वारों पर पैरामिलिट्री फोर्स लगाई गई है, ताकि किसान शहर में घुस ही न सकें।
प्रदेश के 5 जिलों में सभी मोबाइल कंपनियों की इंटरनेट और बल्क SMS सेवाएं बंद कर दी गई हैं।
प्रदेश के 5 जिलों में सभी मोबाइल कंपनियों की इंटरनेट और बल्क SMS सेवाएं बंद कर दी गई हैं।
गृह सचिव-1 डॉ. बलकार सिंह के आदेश के अनुसार, कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पांच जिलों में करनाल के अलावा कुरुक्षेत्र, कैथल, पानीपत और जींद में सोमवार रात 12 बजे से मंगलवार रात 11:59 बजे तक मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद रहेगी।
गृह सचिव-1 डॉ. बलकार सिंह के आदेश के अनुसार, कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पांच जिलों में करनाल के अलावा कुरुक्षेत्र, कैथल, पानीपत और जींद में सोमवार रात 12 बजे से मंगलवार रात 11:59 बजे तक मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद रहेगी।
करनाल के SP गंगाराम पुनिया ने बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने को लेकर पुलिस पूरी मुस्तैद है। धारा-144 लागू है। किसानों को मिनी सचिवालय तक पहुंचने से रोकने के लिए पैरामिल्ट्री फोर्स समेत सुरक्षाबलों की 40 कंपनियां तैनात की गई हैं।
करनाल के SP गंगाराम पुनिया ने बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने को लेकर पुलिस पूरी मुस्तैद है। धारा-144 लागू है। किसानों को मिनी सचिवालय तक पहुंचने से रोकने के लिए पैरामिल्ट्री फोर्स समेत सुरक्षाबलों की 40 कंपनियां तैनात की गई हैं।
पुलिस ने रेत से भरे ट्रक अड़ाकर रास्ते ब्लॉक कर दिए हैं। जीटी रोड से लघु सचिवालय तक आने वाले रास्ते और शहर से लघु सचिवालय तक पहुंचने वाले रास्तों को ब्लॉक किया गया है।
पुलिस ने रेत से भरे ट्रक अड़ाकर रास्ते ब्लॉक कर दिए हैं। जीटी रोड से लघु सचिवालय तक आने वाले रास्ते और शहर से लघु सचिवालय तक पहुंचने वाले रास्तों को ब्लॉक किया गया है।
खबरें और भी हैं...