अंजनथली कॉलेज के छात्रावास का उद्घाटन:कॉलेज में सीएम ने नर्सिंग कोर्स किया मंजूर, नीरज चोपड़ा के नाम से 6 एकड़ में बनेगा स्टेडियम

करनाल5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अंजनथली कॉलेज में परिसर का उद्घाटन करते हुए सीएम मनोहर लाल। - Dainik Bhaskar
अंजनथली कॉलेज में परिसर का उद्घाटन करते हुए सीएम मनोहर लाल।

करनाल के गांव अंजनथली में जगत गुरू ब्रह्मानंद कन्या महाविद्यालय परिसर में नवनिर्मित कन्या छात्रावास का सीएम मनोहर लाल ने उद्घाटन किया। जगत गुरू ब्रह्मानंद जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने इसी महाविद्यालय में छात्राओं के लिए नर्सिंग कोर्स शुरू करने तथा ओलम्पिक पदक विजेता नीरज चोपड़ा के नाम पर 6 एकड़ में स्टेडियम बनाने को मंजूरी दी।

उन्होंने कन्या महाविद्यालय अंजनथली के विकास के लिए 51 लाख रूपये की अनुदान राशि देने की घोषणा के साथ-साथ अखिल भारतीय रोड महासभा की मांग पर कन्या महाविद्यालय बसताड़ा का नाम जगत गुरू ब्रह्मनंद के नाम पर करने की भी घोषणा की। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम स्थल पर आयोजित हवन में पूर्णाहुति डाली। मंच पर दीप शिखा प्रज्जवलित कर गुरू ब्रह्मानंद के चित्र पर पुष्प अर्पित किए।

घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण ने स्वयं व अपने परिवार की और से 2 लाख 21 हजार रुपए, पूंडरी के विधायक रणधीर गोलन तथा नीलोखेड़ी के विधायक धर्मपाल गोंदर ने एक मास का वेतन, पूर्व विधायक नीलोखेड़ी भगवान दास कबीरपंथी ने एक महीने की पेंशन तथा महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविद्यालय अनुसंधान केन्द्र अंजनथली के उपकुलपति डॉ. समर सिंह ने भी अपना एक महीने का वेतन कन्या महाविद्यालय के विकास के लिए देने की घोषणा की।

जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम मनोहर लाल।
जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम मनोहर लाल।

नारी शिक्षा के पक्षधर रहे ब्रह्मानंद : सीएम

मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे छात्राओं को एक सुरक्षित और माकूल जगह मिलेगी, जो एक प्रकार से उनका दूसरा घर होगा। छात्रावास में रहकर वे अच्छे से पढ़ाई कर सकेंगी। उन्होंने जगत गुरू ब्रह्मानंद की शिक्षाओं का जिक्र करते हुए कहा कि वे भी नारी शिक्षा के प्रखर पक्षधर रहे। उन्होंने कहा कि 24 दिसम्बर को गुरू ब्रह्मानंद की 114वीं जयंती है, वे त्याग व तपस्या के प्रतीक थे तथा धर्म व संस्कृति के प्रणेता थे। स्वामी ब्रह्मानंद एक कर्मयोगी व गौरक्षक थे तथा उन्होंने समाज सुधार विषय पर अनेक पुस्तकें व ग्रंथ लिखे। मुख्यमंत्री ने स्वामी ब्रह्मानंद की जयंती पर उनका स्मरण किया और उपस्थित जनसमूह से कहा कि समाज को सही दिशा देने वाले ऐसे महापुरूष के बताए गए रास्ते तथा सिद्घांतो पर चलना चाहिए।

विधायकों ने रखे अपने विचार

नीलोखेड़ी के विधायक धर्मपाल गोंदर ने कहा कि मुख्यमंत्री सबका साथ-सबका विकास की सोच रखते हैं। कन्या महाविद्यालय परिसर में ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा के नाम से जो स्टेडियम बनेगा, उसमें प्रशिक्षण लेकर चोपड़ा जैसे असंख्य एथलीट बनेंगे। विधायक ने अपने ऐच्छिक कोष से 5 लाख रुपए तथा 6 लाख रुपए आगामी वित्तीय वर्ष के ऐच्छिक कोष से गुरू ब्रह्मानंद कन्या महाविद्यालय के विकास के लिए देने की घोषणा की।

सीएम मनोहर लाल को सम्मानित करते हुए संस्था के लोग।
सीएम मनोहर लाल को सम्मानित करते हुए संस्था के लोग।

पूंडरी के विधायक तथा हरियाणा पर्यटन निगम के अध्यक्ष रणधीर सिंह गोलन ने कहा कि वे उदार हृदय के राजनेता हैं, जो हर क्षेत्र के विकास के लिए धनराशि देते हैं। उन्होंने गुरू ब्रह्मानंद का जिक्र कर उन्हें सिद्ध पुरूष बताया।

घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण ने भी मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि करीब 7 साल पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अंजनथली में जिस गुरू ब्रह्मानंद कन्या महाविद्यालय के निर्माण के लिए जिस लाखों रुपये के अनुदान की घोषणा की थी, आज वह फलीभूत होकर सबके सामने है।

दिल्ली में गुरु ब्रह्मानंद के नाम हो कोचिंग शुरू

अखिल भारतीय रोड महासभा के अध्यक्ष नसीब सिंह ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए मांग पत्र प्रस्तुत किया। उन्होंने देश की राजधानी दिल्ली में गुरू ब्रह्मानंद के नाम पर एक कोचिंग सेंटर खोलने की मांग की। उन्होंने करनाल और इसके आस-पास जिलो में गुरू ब्रह्मानंद के नाम पर निर्माणाधीन धर्मशालाओं के लिए अनुदान देने तथा करनाल में गुरू ब्रह्मानंद के नाम पर रोड भवन बनाने की मांग की।