करनाल में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी:3 लाख देकर दिया ज्वॉइनिंग लेटर, विभाग में पहुंचे तो फर्जी होने का चला पता, पैसे वापस मांगने पर दी जान से मारने की धमकी

करनाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

हरियाणा के जिले करनाल में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी किए जाने का मामला सामने आया है। 3 लाख रुपए में सरकारी नौकरी लगवाने के लिए लेकर फर्जी ज्वॉइनिंग लेटर दे दिया। जब पैसे वापस मांगे तो जान से मारने की धमकी दी। अब पुलिस को शिकायत देकर दो आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करवाया है।

ब्रास निवासी जयकुमार ने बताया कि गांव हाड़बी जिला कैथल निवासी गोपी राम शर्मा व प्रीतम सिंह से उसकी मुलाकात निसिंग में हुई। उन्होंने अपने आप को उसे लखा सिंह निसिंग वाले का रिश्तेदार बताया था। उसे विश्वास दिलवाया कि हम तुम्हारे लड़के सुनिल कुमार को पब्लिक हेल्थ डिपार्टमैंट मे सरकारी नौकरी पर लगवा देंगे।
उसे बार-बार फोन करके विश्वास दिलवाया कि वे उसके बेटे को सरकारी नौकरी पर लगवा देंगे। वो आरोपियों के बहकावे में आ गया। आरोपियों ने उसके बेटे को सरकारी नौकरी पर लगावने की एवज में तीन लाख रुपये की मांग की ।
कब कहां कितने दिए पैसे
गोपीराम शर्मा को 2 लाख रुपए जनवरी 2018 में दे दिए। साथ ही उसके लड़के के सारे कागजात भी उसे दे दिए। उसके बाद प्रीतम को 70 हजार रुपए नगद व 30 हजार रुपए के सेल्फ चेक के माध्यम से 12 मार्च 2018 को उसके बहनोई लखा सिंह की कोठी पर निसिंग में दिया। उस समय कोठी पर सिर्फ प्रीतम सिंह ही मौजूद था। उसने 70 हजार रुपए जिले सिंह निवासी अमुपुर, तहसील निसिंग, जिला करनाल से ब्याज पर लिये थे।
ज्वॉइनिंग का दिया पत्र
आरोपियों ने उसके बाद उसे एक लेटर दिया। जिसमें एसडीओ हेल्थ करनाल के हस्ताक्षर थे और जिसके अनुसार उसके लड़के को 22 फरवरी 2018 को पब्लिक हेल्थ कार्यालय करनाल में कागजात सहित पहुंचना था। जब वो और उसका लड़का पब्लिक हेल्थ करनाल के कार्यालय में पहुंचे तो उसके पांव तले की जमीन खिसक गई, क्योंकि वहां पर उन्हें बताया गया कि ये लेटर तो फर्जी है। यहां पर किसी प्रकार की नौकरी नहीं निकली है।
पैसे वापस मांगने पर पहले की टाल-मटोल
उसके बाद उन्होंने आरोपियों से संपर्क किया और उनसे अपने पेसे वापस मांगे तो वे कहने लगे कि तुम चिंता मत करो, तेरे लड़के को सरकारी नौकरी पर लगवा देंगे। बार-बार उसके लड़के को सरकारी नौकरी के लगवाने के बहाने पैसे देने में टालमटोल करते रहे। जब काफी समय बीतने पर भी उसके लड़के को सरकारी नौकरी पर नहीं लगवाया तो फिर से पैसे वापस मांगे। इस बार उन्होंने उसे पैसे देने से साफ इनकार कर दिया।
पैसे मांगने पर दी धमकी
उसके बाद आरोपियों ने उसे 15 जून को धमकी दी कि अगर दोबारा से पैसों की मांग की तो उसे जान से मार देंगे। इस कारण वे काफी डर गया और लगातार डर के साये में जी रहा है। 18 जून आरोपियों के गांव में पंचायत की थी। इस दौरान गोपीराम शर्मा ने चेक दिया और कहा था कि ये चेक कैश करा लेना। जब बैंक में पता किया तो उसके खाते में सिर्फ 500 रुपए ही पड़े हुए थे।
दो पर केस दर्ज
हेड कॉन्स्टेबल कुलदीप सिंह ने बताया कि शिकायत के आधार पर गांव हाबडी जिला कैथल निवासी गोपी राम शर्मा व प्रीतम सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी किए जाने का केस दर्ज किया हैं। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...