हरियाणा के CM भेजेंगे किसानों को निमंत्रण:दर्ज केस वापस लेने पर मनोहर लाल बोले- दोनों पक्ष आमने-सामने बैठेंगे तो चर्चा में समाधान निकलेगा

करनाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किसानों को निमंत्रण भेजने का एलान किया है। हालांकि ये स्पष्ट नहीं किया कि निमंत्रण कब भेजा जाएगा। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि जब दोनों पक्ष आमने-सामने मिलकर बैठेंगे तो सभी मुद्दों पर चर्चा होगी और विमर्श से ही मामला निपटाया जाएगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल देर रात करनाल पहुंचे थे। रात को पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में रुके थे। सुबह शहर के लोगों से मिले। उनकी समस्याओं को भी सुना। जाने से पहले पत्रकारों से बातचीत में किसानों पर सरकार का पक्ष रखा।

सवाल : किसानों का एलान है कि वे निमंत्रण के बाद ही मिलेंगे।
सीएम : हम बातचीत के लिए तैयार हैं। जल्द ही किसानों को निमंत्रण भेजेंगे। बात करेंगे।

सवाल : अब किसान आंदोलन को कहां देखते हैं?
सीएम : काफी नजदीक पहुंची है बात। किसान आंदोलन समाप्ति की और है। जल्द ही निपटारा हो जाएगा।

सवाल : किसानों पर दर्ज हुए केस को रद्द करने की मांग है?
सीएम : जब मिल बैठेंगे। ताे सभी विषयों पर चर्चा होगी।

सवाल : किसानों को क्या कहेंगे?
सीएम : मैंने पहले भी अपील की थी। आज फिर से अपील करता हूं कि किसानों को अपने घर चले जाना चाहिए। फिर भी वो 4 को मीटिंग करके फैसला करेंगे।

सीएम मनोहर लाल करनाल से रवाना होते हुए।
सीएम मनोहर लाल करनाल से रवाना होते हुए।

हरियाणा में किसानों की ये 3 मांगें

  • हरियाणा सरकार के स्तर की कई बातें हैं। इनमें प्रदेश में दर्ज किसानों पर मुकदमे वापस लिए जाएं। करीब 48 हजार किसानों पर केस दर्ज है।
  • प्रदेश में किसान आंदोलन के दौरान शहीद हुए किसानों के शहीदी स्मारक बनाए जाने की जगह देनी है। यह भी प्रदेश सरकार के स्तर का फैसला है।
  • आंदोलन के दौरान जो किसान शहीद हुए हैं, उनके परिवार वालों को मुआवजा दिए जाने की बात है, जो प्रदेश सरकार को देना है।
खबरें और भी हैं...