कम छात्र वाले स्कूल होंगे मर्ज / जिले के 53 स्कूलों में 25 से भी कम छात्र

X

  • विभाग स्कूलों से मांगेगा संख्या कम होने का जवाब

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 07:32 AM IST

करनाल. शिक्षा विभाग की ओर से लॉकडाउन के दौरान स्कूल कार्यालय खुल चुके हैं। शुक्रवार को विभाग की ओर से शिक्षा अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की गई। वीडियो कांफ्रेंसिंग में अधिकारियों को आदेश दिए गए है कि 25 या 25 से कम छात्र संख्या वाले स्कूलों की सूची बनाकर भेजी जाए। 

खंड से संबंधित स्कूलों का भौतिक निरीक्षण करें। स्कूलों से संबंधित मुखिया, अध्यापकों और विद्यार्थियों से कारणों का पता लगाएंगे। कम छात्र संख्या के लिए जो भी उत्तरदायी है उस बारे में कार्यालय के लिए 27 मई तक हेड ऑफिस इसकी सूचना भेजेंगे। अतिथि अध्यापकों को  वेतन केवल तभी निकलवाया जाए जब संबंधित अतिथि अध्यापक का डाटा एचआरएमएस पर अपलोड कर दिया जाए। मई और जून का दूध पाउडर एक साथ वितरित किया जाए। स्कूलों में घास उग चुकी है, उसे कटवाया जाए। जिन स्कूलों के अंदर चारदीवारी नहीं है, चारदीवारी बनाने के लिए जेई से एस्टीमेट बनवाकर कार्य शुरू करें। जिले के 53 स्कूल ऐसे हैं जहां छात्रों की संख्या 25 या 25 से संख्या कम है। 

अब इन स्कूलों के लिए जवाबदेही स्कूल व अभिभावक एसएमसी से ली जाएगी। यदि आस-पास कोई स्कूल पड़ता है तो विभाग इन स्कूलों को मर्ज करेगा। नए सत्र के दाखिले को लेकर मिड-डे मील के साथ अध्यापक नए एडमिशन को लेकर बच्चों को जागरूक करेंगे।

छात्र संख्य कम होने की रिपोर्ट देनी होगी

^स्कूल के कार्यालय खुलने के बाद शिक्षा विभाग की ओर से वीडियो कांफ्रेंसिंग कर आदेश दिए गए हैं। 25 या 25 से कम संख्या वाले छात्रों के स्कूल को लेकर विभाग को रिपोर्ट देंगे। जिसके बाद विभाग इन स्कूलों पर कार्रवाई करेगा।
-रोहताश वर्मा, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, करनाल।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना