कैथल में आढ़ती दंपति हत्याकांड की जांच:वारदात के 5 दिन बाद फरार राजेश पर रखा 1 लाख का इनाम; गिरफ्तारी की मांग को लेकर कल रोष मार्च निकालेंगे शहरवासी

करनाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी राजेश, जिसका सुराग देने वालो मिलेगा एक लाख का इनाम। - Dainik Bhaskar
आरोपी राजेश, जिसका सुराग देने वालो मिलेगा एक लाख का इनाम।

हरियाणा के कैथल जिले में आढ़ती सत्यवान और उनकी पत्नी कैलाश की हत्या करके फरार हुए राजेश डोहर को जिला पुलिस पकड़ नहीं पा रही है। वारदात को 5 दिन का समय बीत चुका है, लेकिन पुलिस की टीमों को राजेश के बारे में कोई सुराग नहीं मिल रहा। जिससे आढ़ती दंपति के परिवार व व्यापारी वर्ग में रोष बढ़ रहा है।

पुलिस ने फरार हुए राजेश की गिरफ्तारी पर एक लाख रुपए का इनाम भी रखा है। इसके लिए आला अधिकारियों को पत्र लिखकर अनुमति ली गई है। सूचना देने वाले की पहचान गुप्त रखी जाएगी। वहीं सामाजिक संगठनों की कमेटी ने सनातन धर्म मंदिर में मीटिंग करके फैसला लिया कि सभी सामाजिक संगठन व शहरवासी हत्यारोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर गुरुवार को शहर में रोष मार्च निकालेंगे। सुबह 10 बजे तक शहरवासी पेहोवा चौक पर इकट्‌ठा होंगे। यहां से हाथों में पोस्टर व बैनर लेकर रोष मार्च निकालते हुए जिला सचिवालय में प्रशासन को ज्ञापन सौंपेंगे।

कल प्रदर्शन के बाद सचिवालय में देंगे ज्ञापन
मृत आढ़ती के भांजे बीरभान जैन ने कहा कि यह सिर्फ हत्या नहीं है, यह इंसानियत की हत्या है। इसलिए सभी को एकजुट होकर अन्याय के खिलाफ आवाज उठानी होगी, तभी सरकार सुनेगी। जीवन रक्षक दल के चेयरमैन राजू डोहर ने कहा कि पुलिस टीमें लगातार आरोपी की तलाश में जुटी हुई हैं। सामाजिक संस्थाएं पीड़ित परिवार के साथ खड़ी हैं। पंजाबी सेवा सदन के प्रधान प्रदर्शन परूथी ने कहा कि बीच कॉलोनी में इस तरह दो हत्याएं होना दर्शाता है कि संवेदनाएं मर चुकी हैं। हमें सरकार को अल्टीमेटम देना होगा। इसलिए कल प्रदर्शन शांतिपूर्ण प्रदर्शन के बाद सचिवालय में सीएम के नाम ज्ञापन भी सौंपा जाएगा।

शुक्रवार को कर दी गई थी हत्या
शुक्रवार 24 सितंबर को दोपहर के समय जींद रोड स्थित मॉडल टाउन में आढ़ती सत्यवान व उसकी पत्नी कैलाश की चाकू से गोद कर घर में ही निर्मम हत्या कर दी गई थी। मृतक के बेटे की शिकायत पर पुलिस ने डोहर निवासी राजेश सहित 5 लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया था। बाद में पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त खून से सनी बाइक व खून से सने कपड़े बरामद कर लिए, जो राजेश के थे। आरोपी राजेश पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। सामने आया कि राजेश को आढ़ती सत्यवान के 12 लाख रुपए देने थे। माना जा रहा है कि उसी रंजिश में हत्याकांड को अंजाम दिया गया। आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस की तीन टीमें लगी हैं, लेकिन आरोपी का कोई सुराग नहीं लगा है।

खबरें और भी हैं...