हरियाणा में अब हर विभागीय सर्विस पर टाइमलाइन का प्रेशर:22 विभागों की 465 सेवाओं पर AAS शुरू; निर्धारित समय में फाइल पर एक्शन नहीं तो ऑटो अपील में जाएगी, जुर्माना और कार्रवाई दोनों

करनालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा की मनोहर लाल सरकार ने लोगों को सेवाओं का लाभ निर्धारित समय पर देने के लिए प्रदेश में AAS (ऑटो अपील सर्विस) नियम लागू किया है। ये नियम 22 विभागों की 465 सेवाओं पर लागू होगा। इनमें वे सेवाएं/सर्विस शामिल हैं, जो ऑनलाइन हैं।

सरकार ने पहले योजनाओं का ऑनलाइन सिस्टम लागू किया, जिसके साथ ही उनको पूरा करने का समय भी निर्धारित किया गया था, लेकिन ज्यादातर विभाग उन सेवाओं को लंबे समय तक लटका कर रखते हैं। ऐसे में आमजन शिकायत करके ही समस्याओं का हल करवा पाते।

अब उन्हें शिकायत करने की जरुरत नहीं होगी। यदि कोई अधिकारी निर्धारित समय पर अपने ट्रैक पर आई फाइल को स्वीकार या अस्वीकार नहीं करता तो फाइल ऑटो अपील में चली जाएगी। आवेदक को इस बारे में पूछा भी नहीं जाएगा।

पहली अपील में सुनवाई नहीं हुई तो दूसरी अपील ऑटो और इसके बाद ऑटोमेटिक ही तीसरी अपील यानी फाइनल अपील में चली जाएगी। यहां पर संबंधित अधिकारी पर जुर्माना और कार्रवाई दोनों हो सकते हैं।

संबंधित विभागों में पहुंचा पत्र

करनाल के डीसी निशांत कुमार यादव ने बताया कि 22 विभाग में AAS नियम लागू हुआ है। सभी के पास विभागीय आदेश आ चुके हैं। अब अधिकारियों को गंभीरता से समय पर काम करना होगा।

किस विभाग की कितनी स्कीम/सर्विस पर लागू हुआ नियम, जानिए...

  • विभाग स्कीम/सर्विस
  • अर्बन लॉकल बॉडी 125
  • कृषि विभाग 54
  • रिवेन्यू विभाग 38
  • पुलिस विभाग 33
  • हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण 27
  • बीओसीडब्ल्यू बोर्ड 26
  • मत्सय विभाग 24
  • ट्रांसपोर्ट विभाग 21
  • लेबर वेलफेयर बोर्ड 21
  • टाउन एंड कंट्री प्लानिंग 13
  • वूमेन एंड चाइल्ड डिवलोपमेंट 11
  • एचएसएएमबी 09
  • यूएचबीवीएन 09
  • हेल्थ सर्विस विभाग 08
  • पब्लिक हेल्थ एंड इंजीनियरिंग 08
  • इम्पलोयमेंट विभाग 08
  • फूड एंड सप्लाई विभाग 08
  • वेलफेयर ऑफ एससी-बीसी 07
  • होर्टिकल्चर विभाग 06
  • सोशल जस्टिस एंड इम्पावरमेंट 06
  • फॉरेस्ट विभाग 02
  • लेबर विभाग 01
खबरें और भी हैं...