पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

70 साल के पूर्व सरपंच को पुलिसवालों ने घसीटा:करनाल में रात में घर में घुसकर जबरन जीप में बिठाया, खींचातानी में नीचे गिरने से बुजुर्ग को लगी चोटें, गृहमंत्री को वीडियो भेजकर परिवार ने की न्याय की मांग

करनाल9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
CCTV में कैद पुलिस वाले जबरदस्ती सरपंच को उठाकर गाड़ी में डालते हुए। - Dainik Bhaskar
CCTV में कैद पुलिस वाले जबरदस्ती सरपंच को उठाकर गाड़ी में डालते हुए।

करनाल के झिंवरेहड़ी गांव में कुछ पुलिसकर्मियों की दबंगई का मामला सामने आया है। रविवार रात तकरीबन 8 बजे पुलिस के 4 जवानों ने 70 साल के पूर्व सरपंच गुलाब सिंह को जबरन जीप में डाल कर थाने ले जाने की कोशिश की। इस दौरान गुलाब की पत्नी और एक महिला ने पुलिसवालों को रोकने का प्रयास किया मगर वह नहीं माने। पुलिसवालों की जोर-जबरदस्ती के दौरान पूर्व सरपंच गुलाब सिंह जीप से नीचे गिरकर घायल हो गए। यह पूरी घटना CCTV कैमरे में कैद हो गई।

पीड़ित बुजुर्ग दंपती ने ये CCTV फुटेज हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज को भेजकर कर न्याय की गुहार लगाई है। उधर घटना का वीडियो सामने आने के बाद करनाल के एसपी गंगाराम पुनिया ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

करनाल जिले में मधुबन थाने के 4 पुलिसकर्मी रविवार रात तकरीबन 8 बजे जीप में सवार होकर झिंवरेहड़ी गांव में पूर्व सरपंच गुलाब सिंह के घर पहुंचे। जीप गेट के बाहर खड़ी करके चारों पुलिसवाले घर के अंदर घुसे और तलाशी लेना शुरू कर दिया। घर की तलाशी लेने के बाद पुलिसवालों ने 70 साल के गुलाब सिंह को जबरन जीप में बैठाने की कोशिश की। इस दौरान घर में मौजूद गुलाब सिंह की पत्नी प्रेमो देवी और उसकी बहन ने पुलिसवालों की हरकत का विरोध किया मगर उनकी सुनवाई नहीं हुई। पुलिसवालों की खींचतान के दौरान जीप में बैठे बुजुर्ग गुलाब सिंह जमीन पर गिर पड़े जिससे उन्हें चोट लगी। गुलाब सिंह की पत्नी प्रेमो देवी भी झिंवरेहड़ी गांव की सरपंच रह चुकी हैं।

गोबर डालने को लेकर पड़ोसी ने की थी शिकायत दरअसल गुलाब सिंह के परिवार के खिलाफ उन्हीं के पड़ोस में रहने वाले हवा सिंह की पत्नी शीला देवी ने मधुबन थाने में शिकायत दी थी। गुलाब सिंह और हवा सिंह के परिवारों में गांव में खाली पड़े जमीन के एक टुकड़े को लेकर लम्बे समय से विवाद चल रहा है। मधुबन थाने में दी गई शिकायत में शीला देवी ने कहा था कि गोबर डालने को लेकर गुलाब सिंह के परिवार ने उनसे मारपीट की है।

उधर पुलिसवालों की दबंगई सामने आने के बाद मधुबन पुलिस थाने के अधिकारियों का कहना है कि पुलिसवाले गुलाब सिंह से जांच में शामिल होने का कहने गए थे। किसी से कोई जोर-जबरदस्ती नहीं की गई।

पुलिस से अभद्र व्यवहार किया, जांच करेंगे
उधर घरौंडा के DSP जयसिंह का कहना है कि शीलादेवी की शिकायत पर झिंवरेहड़ी गांव के पूर्व सरपंच गुलाब सिंह, उनकी पत्नी प्रेमो देवी और बेटे सलिंदर के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस टीम इसी केस की जांच के सिलसिले में गुलाब सिंह को बुलाने गई थी मगर वहां कुछ लोगों ने पुलिसवालों से अभद्र व्यवहार किया। DSP ने कहा कि जो सीसी फुटेज सामने आई है, उसकी भी जांच की जाएगी।

खबरें और भी हैं...