करनाल सचिवालय में पुलिस की गुंडागर्दी:SP कार्यालय के बाहर से बाप-बेटी को जबरन उठाकर ले गए 6 कर्मचारी, दोनों चिल्लाते रहे- हमें एक बार साहब से मिल लेने दो

करनाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसपी कार्यालय के बाहर से बाप-बेटी को उठाकर ले जाते पुलिसकर्मी। - Dainik Bhaskar
एसपी कार्यालय के बाहर से बाप-बेटी को उठाकर ले जाते पुलिसकर्मी।

हरियाणा के करनाल जिला सचिवालय में बुधवार को पुलिस वालों की गुंडागर्दी देखने को मिली। एसपी कार्यालय के बाहर से बाप-बेटी को 6 पुलिस कर्मियों ने फिल्मी स्टाइल में उठा लिया। तीसरी मंजिल से जबरन उठाकर सीढ़ियों से घसीटते हुए नीचे ले गए। इस दौरान दोनों राेते हुए एक ही बात कह रहे थे कि एक बार एसपी साहब से मिल लेने दो। लेकिन पुलिसवालों के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी।

बल्कि वे दोनों को नीचे खड़ी पुलिस की प्राइवेट गाड़ी में जबरदस्ती डालकर ले गए। दोपहर के समय सचिवालय में एसपी गंगाराम पुनिया से मिलने वालों की भीड़ जमा थी। इनके बीच कुरुक्षेत्र के बाप-बेटी भी अपनी फरियाद लेकर पहुंचे थे। उनके एसपी से मिलने से पहले ही 6 पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे और दोनों को पकड़कर वहां से लेकर जाने लगे।

बाप-बेटी को जबरदस्ती गाड़ी में बिठाते हुए पुलिस कर्मी।
बाप-बेटी को जबरदस्ती गाड़ी में बिठाते हुए पुलिस कर्मी।

मारपीट और दहेज प्रताड़ना का मामला
जब उन्होंने एसपी से मिलने के लिए वहीं पर रुकना चाहा तो वे उन्हें घसीटते हुए नीचे ले गए। लड़की चिल्ला रही थी कि हमारी तो सुनवाई कर लो। एक बार, पहले बात तो सुन लो। वहीं लड़की का पिता कह रहे थे हमें पहले एसपी साहब से मिलवा दो, फिर जहां मर्जी ले चलना। यहां हम अपना पक्ष ही रखने आए हैं। उनका कसूर इतना था कि लड़की के ससुराल वालों ने मारपीट का केस दर्ज करवाया था। जबकि लड़की वालों ने एक साल पहले दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज करवाया हुआ है।

जांच में शामिल होने के लिए कई बार बुलाया
जुंडला चौकी के जांच अधिकारी एएसआई मुकेश कुमार ने बताया कि शाहपुर के परिवार ने इन पर मारपीट का केस दर्ज करवाया है। उन्हें पिछले एक महीने में कई बार जांच में शामिल होने के लिए बुलाया, परंतु वे नहीं आए। फोन पर पुलिस के साथ बदतमीजी करते हैं। आज जब पुलिस को पता चला कि दोनों अपने मामले को लेकर एसपी से मिलने के लिए आए थे तो गिरफ्तार किया गया है।

लड़की के पिता को घसीटकर ले जाते पुलिसकर्मी।
लड़की के पिता को घसीटकर ले जाते पुलिसकर्मी।

एएसआई मुकेश से हुई बातचीत

सवाल - क्या मामला था?

जवाब- मारपीट का केस दर्ज है। जांच में शामिल नहीं हो रहे थे।

सवाल - कहां हुई मारपीट और क्यों हुई?

जवाब - कुरुक्षेत्र की लड़की की शाहपुर में शादी हुई थी। उन्होंने 1 साल पहले कुरुक्षेत्र में दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज करवाया था। एक महीने पहले शाहपुर में मारपीट की।

सवाल- मारपीट के मामले में ऐसे जबरदस्ती उठाना ठीक है?

जवाब- जब बुलाने से नहीं आएंगे तो और क्या करेंगे।

सवाल - एसपी से क्यों नहीं मिलने दिया?

जवाब - एक महीने से जांच में शामिल नहीं हो रहे थे। आज पता चला तो उनको गिरफ्तार कर लिया।

सवाल - एक महीना दे सकते हो, 10 मिनट और रुक क्यों नहीं सकते थे।

जवाब - इस बारे में मैं कोई जवाब नहीं दूंगा।

खबरें और भी हैं...