पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

करनाल में गर्भवती महिला की मौत:2 दिन पहले KCGMC अस्पताल में हुई थी एडमिट, डॉक्टर बोले- पेट में कोई बच्चा नहीं था; परिजन बोले- हमारे पास 9 महीनों की रिपोर्ट

करनाल11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस को जानकारी देते हुए मृतक महिला के परिजन। - Dainik Bhaskar
पुलिस को जानकारी देते हुए मृतक महिला के परिजन।

हरियाणा के जिले करनाल के सरकारी अस्पताल में एक गर्भवती महिला की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। जिसे KCGMC (कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज) में महिला की मौत हो गई। परिजनों ने मुताबिक, डॉक्टरों ने उनसे कहा कि महिला के पेट में कोई बच्चा नहीं था, जबकि उनके पास 9 महीनों की रिपोर्ट है। परिजनों ने हंगामा करते हुए डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर उनकी बातों को सुना और समझाकर शांत किया।

मृतक के पति ने कहा कि वे 2 दिन पहले अपनी पत्नी को डिलीवरी के लिए लेकर सरकारी अस्पताल में आए थे। वहां पर अल्ट्रासाउंड के बाद उसे कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया। जहां पर इलाज करने वाले स्टाफ ने पहले उन्हें खून कम बताते हुए ब्लड लाने को कहा गया। इसके बाद प्लेटलेट्स कम बताते हुए 8 हजार रुपये का खर्च बता दिया। उन्हें इलाज के आए एक परिवार ने 8 हजार रुपये दिए।

सुबह होना था ऑपरेशन
देवर रविंद्र ने कहा कि रात को उन्हें कहा गया कि सुबह ऑपरेशन होगा। लेकिन आधा घंटे के बाद उसकी पत्नी की मौत हो गई। साथ ही डॉक्टरों ने कहा कि महिला के पेट में कोई बच्चा नहीं था। उनके पास सभी नौ महीनों की रिपोर्ट है। इस स्थिति में आकर कोई ऐसे कैसे कह सकता है कि उनके पेट में बच्चा नहीं था।

मुंह से निकल रहा था खून
परिजनों ने बताया कि उनके मरीज के मुंह से खून निकल रहा था। इस बात के बारे में जब स्टाफ को कहा तो उन्होंने उनके साथ धक्का-मुक्की की। मृतक पर इससे पहले 4 साल की एक बच्ची है। उन्होंने कहा कि जब तक उन्हें इंसाफ नहीं मिलेगा को शव को यहीं पर रखेंगे।

शिकायत पर होगी कार्रवाई
एएसआई दिलबाग सिंह ने बताया कि उनके पास 112 नंबर पर कॉल आई थी। जब वे अस्पताल पहुंचे तो परिवार ने उन्हें बताया कि वे दो दिन पहले डिलीवरी के लिए आए थे। डॉक्टर की लापरवाही से उनके मरीज की मौत हुई है। शिकायत दी तो मामले की जांच की जाएगी।

खबरें और भी हैं...