हरियाणा महिला कांस्टेबल भर्ती:दौड़ का परिणाम जारी; 7700 में से 5234 पास, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन से पहले मांगी एक रिपोर्ट

करनाल7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा कर्मचारी भर्ती आयोग ने महिला कांस्टेबल भर्ती के तहत हुई दौड़ का परिणाम जारी किया है। साथ ही डॉक्यूमेंट स्क्रूटनी से पहले अंतिम रिपोर्ट मांगी गई है। आयोग ने दौड़ में हिस्सा लेने वाले 7700 पात्रों में से 5234 को पास किया है। अब इन पात्रों से शिक्षा, एनसीसी सर्टिफिकेट, सोशल इकॉनोमिक की जानकारी मांगी गई है, ताकि सब इंस्पेक्टर भर्ती की तरह सोशल इकॉनोमिक अंकों में दिक्कत न हो।

हरियाणा कर्मचारी भर्ती आयोग के चेयरमैन भोपाल सिंह खदरी ने बताया कि लिखित परीक्षा पास कर चुकी 7700 लड़कियों को फिजिकल के लिए बुलाया गया था। 5234 पास हुई हैं, जिनसे डॉक्यूमेंट की जानकारी मांगी गई है। इन पात्रों से उनके शिक्षा व सोशल-इकाॅनाेमिक स्थिति की जानकारी मांग गई है, ताकि रिजल्ट के बाद कोई दिक्कत न हो।

दौड़ से पहले बायोमीट्रिक प्रक्रिया हुई।
दौड़ से पहले बायोमीट्रिक प्रक्रिया हुई।

100 नंबर से बनेगी मेरिट

- 80 नंबर की लिखित परीक्षा हुई। 100 प्रश्नाें की लिखित परीक्षा ली गई। प्रत्येक प्रश्न के 0.8 अंक तय किए गए।

- 10 नंबर एजूकेशन के तय किए गए हैं। इनमें 4 अंक ग्रेजुएशन, 3 अंक पोस्ट ग्रेजुएशन, 3 अंक एनसीसी सर्टिफिकेट के तय हैं।

- 10 नंबर सोशल-इकॉनोमिक के तय किए गए हैं। परिवार में कोई जॉब न होने पर 5 अंक, पिता नहीं होने पर 5 अंक, अनुभव के 8 अंक व घुमंतू जनजाति के 5 अंक हैं। अधिकतर 10 अंक ही दिए जाएंगे।

भर्ती से जुड़ी जानकारियां...

- 13 दिसंबर 2020 को 4/2020 कैट नंबर 02 के तहत महिला कांस्टेबल जनरल डयूटी के 1100 पदों के लिए विज्ञापन जारी किया गया।

- 11 जनवरी से 25 फरवरी के बीच आवेदन मांगे गए थे। 2 लाख 57 हजार 180 महिलाओं ने आवेदन किया।

- आवेदक 12वीं पास हो। 10वीं में हिंदी या संस्कृत विषय अनिवार्य, 18 से 25 वर्ष के बीच आयु हो। जनरल कैटेगरी के लिए 158CM व आरक्षित वर्ग के लिए 156CM लंबाई हो।

- विभाग की तरफ से जनरल कैटेगरी के लिए फीस 50 रुपए और एससी/ओबीसी/ईडब्ल्यूएस कैटेगरी के लिए 13 रुपए तय की गई थी। एक्स-सर्विसमैन कैटेगरी के लिए कोई शुल्क नहीं लिया गया था।

- 18 व 19 सितंबर को लिखित परीक्षा हुई। 8 अक्टूबर से फिजिकल के लिए एडमिट कार्ड जारी हुए। 11 नवंबर 13 नवंबर तक से पंचकूला के परेड ग्राउंड में दौड़ हुई।