• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Karnal
  • Seeing The Problem Of Jam Increasing, The Market Committee Started Cutting The Gatepass At The Gate Of Mandi At Night Itself.

जाम की परेशानी:जाम की परेशानी को बढ़ता देख मार्केट कमेटी ने मंडी के गेट पर गेटपास रात को ही काटने शुरू किए

तरावड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • करनाल, तरावड़ी, असंध, इंद्री व घराैंडा की मंडियों में स्थिति ज्यादा खराब, लिफ्टिंग नहीं होने से मंडियों में नहीं बची फसल उतारने की जगह

तरावड़ी में बुधवार शाम सात बजे से अनाज मंडी में आने वाले धान के ट्रकों व ट्रैक्टर ट्रॉलियों के कारण शहर के भीतर आने वाले सभी रास्ते जाम के कारण पूरी तरह बंद हो गए। पिछले दो दिनों से मंडी में धान उठान का काम चल रहा था और आवक को बंद किया गया था जिसके कारण गुरूवार को सुबह धान की खरीद दोबारा से शुरू होनी थी ,यही कारण था कि किसान जल्दी अपना माल बेचने के चक्कर में बुधवार शाम को ही तरावड़ी मंडी में पहुंचने लगे और देखते ही देखते सौकड़ा रोड़, नडाना रोड व जीटी रोड़ तक सभी रास्तों पर धान से लदे ट्रक व ट्रैक्टर ट्रालियों की कतारें नजर आने लगीं। दूसरे वाहनों के आने जाने तक का रास्ता नहीं बचा।

जाम की परेशानी को बढ़ता देख मार्केट कमेटी की ओर से मंडी के गेट पर गेटपास रात को ही काटने शुरू कर दिए उसके बाद भी जब कोई फर्क पड़ता दिखाई नहीं दिया तो पुलिस को यातायात सुचारू करने के लिए बुलाया गया। तरावड़ी पुलिस रातभर यातायात सुचारू करवाने के लिए जुटी रही, लेकिन वाहनों को निकालने का कही रास्ता न मिलने के चलते सुबह तक पुलिस भी हार मान चुकी थी और तरावड़ी थाना की ओर से यातायात को कंट्रोल करने के लिए ओर अधिक पुलिस मंगवाई गई। दोपहर बाद एक बजे तक पुलिस ने बड़ी मशक्कत के बाद यातायात को कंट्रोल किया और शहर के लोगों को राहत की सांस ली।

-लोग और स्कूली बच्चों को भी हुई परेशानी

सुबह के समय जाम के चलते तरावड़ी में आने वाले नौकरी पेशा लोगों व स्कूल में जाने वाले बच्चों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा, क्योंकि जाम के कारण बच्चों की स्कूल बसें शहर के भीतर नही आ पाई परेशान स्कूल बस चालकों को आखिरकार अपनी बसों को अंडरपास के दूसरी ओर पूल के नीचे खड़ा करना पड़ा और अभिभावकों को अपने बच्चों को बस तक पहुंचाना पड़ा। इससे भी खराब स्थिति उन लोगों की रही जो तरावड़ी में अपनी नौकरी पर आ रहे थे ,उन्हें अपने वाहनों को इधर उधर खड़ा कर ड्यूटी पर जाना पड़ा। इस बारे में मार्केट कमेटी सचिव विवेक पंघाल ने बताया कि जाम की स्थिति को देखते हुए बुधवार रात को ही गेटपास काटने शुरू कर दिए थे, लेकिन अब जो ट्रक जाम फसें हैं, वह किसानों का धान लेकर नहीं ,बल्कि राइस मिलों का माल लेकर दूसरी मंडियों से आए है।

उन्होंने बताया कि तरावड़ी मंडी में धान लेकर आने वाले किसी भी किसान को परेशानी नहीं आने दी जा रही। थाना प्रभारी मनोज वर्मा ने बताया कि रात भर भी जाम की स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ और सुबह यातायात कंट्रोल के लिए ओर पुलिस को बुलाना पड़ा। कड़ी मेहनत के बाद दोपहर तक स्थिति कंट्रोल में आई।

खबरें और भी हैं...