पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Karnal
  • The First Week Of July Has Not Passed, The Monsoon Has Not Arrived, The Sultry Heat Is Bothering, The Temperature Reached 39 Degrees

वेदर अपडेट:जुलाई का पहला सप्ताह बीता, नहीं आया माॅनसून, उमस भरी गर्मी कर रही परेशान, 39 डिग्री तक पहुंचा तापमान

करनाल19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
छात्राएं दोपहर को पढ़ाई करने के बाद अपने घर की ओर जाते समय गर्मी से बचने के लिए छतरी का उपयोग करते हुए। फोटो |भास्कर - Dainik Bhaskar
छात्राएं दोपहर को पढ़ाई करने के बाद अपने घर की ओर जाते समय गर्मी से बचने के लिए छतरी का उपयोग करते हुए। फोटो |भास्कर
  • पिछले साल जुलाई में 440.6 एमएम हुई थी बारिश, 9 से 12 जुलाई तक बारिश होने की संभावना

जिस महीने में बारिश गर्मी से राहत दिलाने का काम करती है, उसका एक सप्ताह सूखा बीत गया है, लेकिन माॅनसून नहीं आया है। बारिश होने की बजाए उमस भरी गर्मी परेशान कर रही है। तापमान 39.2 डिग्री तक पहुंच गया। जबकि पिछले साल की बात करें जुलाई के पहले सप्ताह से बारिश शुरू हो गई थी।

पूरे जुलाई में 440.6 डिग्री एमएम बारिश हुई थी। जोकि पिछले 10 सालों में जुलाई माह में वर्ष 2018 को छोड़कर सर्वाधिक बारिश रही है। इन दिनों बिना बारिश के मौसम में उमस भरी गर्मी भरी हुई है। किसान भी बारिश का इंतजार कर रहे हैं।

बारिश न होने से कृषि क्षेत्र में बिजली लोड के चलते बिजली के अघोषित कट और ट्रिपिंग के मामले में बढ़ गए हैं। जून के मध्य में कई बार बारिश आने से लोगों को लगा था कि जल्द ही माॅनसून आने वाला है। जून के लास्ट सप्ताह तक माॅनसून के आने की पूरी उम्मीद बनी थी, लेकिन उम्मीद के विपरित यह जुलाई के पहले सप्ताह में भी नहीं पहुंचा है।

लेकिन मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार जुलाई के दूसरे सप्ताह में माॅनसून सक्रिय होने की उम्मीद बन रही है। मौसम विभाग की वेबसाइट के अनुमान 8 से 11 बजे जुलाई के बीच में बारिश होने की संभावना है। अर्थात मानसून सक्रिय हो सकता है। अगर इन दिनों में बारिश होती है तो जहां आमजन को उमस भरी गर्मी से राहत मिलेगी, वहीं किसानों को भी सूखे से अपनी फसल खराब होने का खतरा टल जाएगा।

जून माह में काफी हद तक बारिश ठीक रही है। जून माह में 89.3 एमएम बारिश दर्ज हुई है। इस कारण से जून माह में आखिरी सप्ताह को छोड़कर भीषण गर्मी से लोगों को राहत मिली रही। मौसम में चली उठापटक से लू से भी लोगों का बचाव रहा। लेकिन अब जुलाई माह के पहले सप्ताह ने लोगों को निराश कर दिया है। बारिश न होने से गर्मी अपना असर दिखा रही है।

9 जुलाई से मॉनसून आगे बढ़ने की अनुकूल परिस्थितियां बनने की संभावना से राज्य में ज्यादातर क्षेत्रों में 9 जुलाई रात्रि से 12 जुलाई के बीच हवाएं व चमक के साथ बारिश होने की संभावना है।
डॉ. मदन खीचड़, विभागाध्यक्ष कृषि मौसम विज्ञान विभाग चौ. चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार

खबरें और भी हैं...