तापमान में गिरावट ,बढ़ी ठंड:12 दिसंबर की रात बीते साल से तीन डिग्री ज्यादा ठंडी रही, न्यूनतम तापमान 7 डिग्री तक पहुंचा

करनालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करनाल. घोघड़ीपुर पुल के पास शहर में सुबह छाई हल्की धुंध। - Dainik Bhaskar
करनाल. घोघड़ीपुर पुल के पास शहर में सुबह छाई हल्की धुंध।
  • इस बार सूखी रहेगी ठंड, बारिश के आसार नहीं, अगले सप्ताह तापमान में तेजी से आएगी गिरावट

दिसंबर महीने ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है। दूसरे सप्ताह के समापन के साथ ठंड कड़क होने लगी है। शहर की अपेक्षा ग्रामीण अंचल में ठंड अधिक महसूस होने लगी है। धुंध का दृश्य भी शहर से ज्यादा ग्रामीण क्षेत्र में अधिक दिखाई दिया। तापमान की बात करें तो शहर में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री रहा, जबकि ग्रामीण क्षेत्र में न्यूनतम तापमान छह डिग्री तक रहा। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार आने वाले दिनों में तापमान में और गिरावट दर्ज होगी। सोमवार को शहर का अधिकतम तापमान 20.8 डिग्री सेल्सियस रहा तो न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस रहा। दिसंबर के आखिरी सप्ताह से ठंड और कड़क होने संभावना है। केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्‍थान के अनुसार इस बार 12 दिसंबर की रात पिछले साल 12 दिसंबर से अधिक ठंडी रही है। पिछले साल के इस दिन के रात्रि तापमान को देखा जाए तो अधिकतम तापमान 10.5 डिग्री रिकार्ड हुआ था। जबकि इस बार 7 डिग्री रिकार्ड हो रहा है। दिन का तापमान लगभग बराबर है।

नवंबर में नहीं हुई बारिश, दिसंबर में भी चांस कम

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार नवंबर में एक एमएम भी बारिश नहीं हुई है। दिसंबर भी आधा बीत गया है। दिसंबर के शेष दिनों में भी बारिश के चांस कम है। ऐसे में सूखी ठंड पड़ सकती है। 19 दिसंबर तक मौसम साफ रहने का अनुमान : मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल 19 दिसंबर तक मौसम साफ रहने की संभावना है। इस दौरान बादलों के चांस बहुत कम है। लेकिन हल्की धुंध पड़ने की संभावना है। जिसकी वजह से दिन के तापमान में और गिरावट आने की संभावना है। तेजी से छोटे हो रहा हैं दिन : अब सूर्योदय 7 बजकर 8 मिनट पर और सूर्यास्त 5 बजकर 24 मिनट पर होने लगा है। इससे दिन छोटा होता जा रहा है।

गेहूं की फसल में ग्रोथ होने के अनुकूल बना मौसम

गेहूं की फसल में ग्रोथ होने के अनुकूल मौसम बना हुआ है। क्योंकि दिन में अधिकतर समय मौसम लगभग साफ होता है और रात को अच्छी ठंड पड़ने लगी है। इसलिए किसान खेतों में पानी लगाने के साथ-साथ खाद भी डाल सकते हैं, जिससे फसलाें में फुटाव तेजी से होगा। दुधारू पशुओं को विशेष देखभाल की जरूरत : रात को ठंड बढ़ गई है। इसलिए इन दिनों में दुधारू पशुओं उचित देखभाल व खान-पान पर ध्यान देने की जरूरत है। पशुओं को शैड के नीचे रखना चाहिए और दिन में धूप में रखना चाहिए। इससे पशुओं के दूध देने की क्षमता बनी रहेगी।

खबरें और भी हैं...