यूनियन ने चेतावनी:वर्कर्स बोलीं- हड़ताल के दौरान परेशान किया तो पीओ कार्यालय पर देंगी धरना

करनाल5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आंगनबाड़ी वर्कर व हेल्पर ने अपनी मांगों को लेकर 15वें दिन भी जारी रखा धरना

आंगनबाड़ी वर्कर एवं हेल्पर यूनियन के बैनर तले आंगनबाड़ी वर्करों व हेल्परों ने हड़ताल के 15वें दिन डीसी कार्यालय पर धरना देने के बाद शहर में प्रदर्शन करते हुए पीओ (प्राेग्राम अाॅफिसर) करनाल के कार्यालय के बाहर दो घंटे तक घेराव किया। इसके बाद अधिकारी ने आश्वासन दिया कि हड़ताल के दौरान किसी भी वर्कर हेल्पर को प्रताड़ित नहीं किया जाएगा और न ही विभाग का काम करवाया जाएगा। यूनियन ने चेतावनी दी कि जब तक हड़ताल चलेगी तब तक यदि किसी पीओ या सीडीपीओ या सुपरवाइजर ने किसी भी वर्कर हेल्पर को प्रताड़ित किया तो हजारों वर्कर हेल्पर डीसी कार्यालय की बजाय पीओ कार्यालय पर ही धरना देंगी। बुधवार को डीसी कार्यालय करनाल पर जिला प्रधान रुपा राणा की अध्यक्षता में धरना जारी रहा। इसका संचालन नीलम ने किया। सर्वकर्मचारी संघ हरियाणा के जिला प्रधान मलकीत सिंह, सुशील गुर्जर, सीटू उपप्रधान ओपी माटा, जिला प्रधान सतपाल सैनी व सचिव जगपाल राणा ने संबाेधित किया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने अक्टूबर 2018 में वर्करों का मानदेय 1500 रुपए व हेल्परों का मानदेय 750 रुपए बढ़ाने की घोषणा की थी जो अन्य कई राज्यों में मानदेय बढ़ा दिया है। प्रधानमंत्री के आदेश के बावजूद भी हरियाणा सरकार मानदेय नहीं बढ़ा रही है, वर्करों को स्मार्टफोन भी नहीं दिए जा रहे हैं। इस अवसर पर नरेश महैला, मलकीत सिंह, सुशील गुर्जर, भाग सिंह, जगमाल सिंह, महिमा सिंह, सतपाल सैनी, अमरजीत कौर, ओपी माटा, उमा शर्मा, शालिनी, सुनीता, रेखा, राजरानी, बिजनेश राणा, रुपा राणा, रेनू, सुष्मा, मोनिका, रीना, जगपाल राणा, ओपी माटा, नीलम, सुदेश, संगीता, रीना, राकेश राणा, कमला, ममता, मंजू बवेजा, सरोज, सुषमा, शीला, पूनम, पिंकी व कविता आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...