करनाल में युवक की संदिग्ध हालात में मौत:भाई के ससुराल वालों से चल रही थी अनबन; उसकी सास-साले और चाचा ससुर पर जहर देने का आरोप, केस दर्ज

करनाल9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इंद्री पुलिस थाना में दर्ज हुआ केस। - Dainik Bhaskar
इंद्री पुलिस थाना में दर्ज हुआ केस।

करनाल गांव खानपुर में एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। परिजनों ने मृतक के भाई के ससुराल ‌वालों पर जहर देने का आरोप लगाया है। फूसगढ़ गांव के पास सड़क पर पड़े युवक को राहगीरों ने अस्पताल में पहुंचाया, जहां पर इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई। इंद्री पुलिस ने तीन के खिलाफ केस दर्ज करके शव को कब्जे में ले लिया है।

गांव खानपुर निवासी सुन्दरी देवी ने बताया कि उसके 3 लड़के और 2 लड़कियां हैं। बड़े लड़के रवि का खटीक बस्ती पानीपत निवासी ससुराल वालों के साथ मनमुटाव चल रहा था। वे 15 सितंबर को उसकी राजीनामा करने के लिए गए थे। जब वे वापसी में बसताड़ा टोल प्लाजा पर पहुंचे तो सुसराल वालों ने वहां मारपीट की और रवि को साथ लेकर चले गए।

दोबारा फिर 18 सितंबर को पंचायत करने के लिए गए, लेकिन उस दिन भी कोई फैसला नहीं हुआ और वे वापस आ गए। 19 सितंबर को दोबारा महिला थाना पानीपत में जाना था। क्योंकि रवि के सुसराल वालों ने उसके व मेरे लड़कों की दरखास्त दी हुई थी। रवि का भाई अमित सुबह 7 बजे अपनी बाइक पर यह कहकर निकला कि वह पानीपत जाने के लिए पैसे उधार लेकर आता है।

इस बीच गांव के सजीव ने उन्हें फोन करके बताया कि अमित इंद्री अस्पताल में है। वे तुरंत इंद्री पहुंचे और अमित को लेकर कल्पना चावला अस्पताल करनाल आ गए। यहां उन्हें अमित ने बताया कि उसे रवि की सुसराल वालों ने जबरदस्ती जहर खिला दिया है। जहर पिलाने वालों में ससुर चाचा दिनेश, रवि का साला साहिल, सास निशा शामिल हैं। फिर वे उसे फूसगढ़ में सड़क पर फेंक गए।

किसी राहगीर ने डायल 112 पर फोन करके उसे सिविल अस्पताल पहुंचाया। डायल 112 के स्टाफ को अमित की जेब से सुसाइड नोट मिला है। एएसआई रमेश चंद ने बताया कि पुलिस ने शिकायत के आधार पर मृतक के भाई के साले, सास व चाचा ससुर के खिलाफ केस दर्ज किया है। मामले की जांच की जा रही है। दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद ही आगामी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...