छाबड़ा चौथी बार बने केडीबी के मानद सचिव:कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के मानद सचिव के पद पर चौथी बार मदन मोहन छाबड़ा को ही बनाया गया

कुरुक्षेत्र5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के मानद सचिव के पद पर चौथी बार मदन मोहन छाबड़ा को ही बनाया गया। छाबड़ा को सरकार की तरफ से तीसरी बार एक्सटेंशन मिली है। अब वे एक साल के लिए चौथी बार मानद सचिव बने हैं। बता दें कि छाबड़ा ऐसे दूसरे व्यक्ति हैं, जिन्हें मानद सचिव बनाया गया। पहली बार छाबड़ा से पहले करनाल के भाजपा नेता अशोक सुखीजा को मानद सचिव नियुक्त किया था, लेकिन बाद में उनकी जगह मदन मोहन छाबड़ा को मौका मिला। छाबड़ा आरएसएस व विहिप से भी जुड़े रहे हैं।

तीसरी बार एक्सटेंशन : प्रदेश सरकार ने मदन मोहन छाबड़ा को सन्न 2018 में पहली बार मानद सचिव बनाया था। तब वे दो साल के लिए नियुक्त हुए थे। इसके बाद 2020 में उन्हें एक साल की एक्सटेंशन मिली। बाद में 2021 में भी उन्हें ही मौका दिया। अब तीसरी बार छाबड़ा को ही एक्सटेंशन मिली है। इस संबंध में अर्बन लोकल बॉडी विभाग की तरफ से शनिवार को उनकी फाइल केडीबी को भेजी। जिसमें एक साल के लिए उन्हें मानद सचिव नियुक्त किया।

इसलिए चौथा मौका : बता दें कि छाबड़ा व सीईओ केडीबी की देखरेख में 48 कोस के कई तीर्थों के जीर्णोद्धार को लेकर काम चल रहा है। कुरुक्षेत्र में इंटरनेशनल गीता जयंती व विदेशों में गीता महोत्सव के कई प्रोजेक्ट से भी छाबड़ा जुड़े हैं। संभवत इसी लिए सरकार ने उन्हें रिपीट किया, ताकि उक्त प्रोजेक्ट में किसी तरह का खलल न पड़े।

खबरें और भी हैं...