मंदिर निर्माण:पिपली में जीटी रोड पर सरस्वती के तट पर बनेगा मां सरस्वती का भव्य मंदिर

कुरुक्षेत्रएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड वाइस चेयरमैन धुम्मन सिंह किरमिच ने कहा कि सरस्वती के प्रति लोगों की श्रद्धा दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। इसी कड़ी में सरस्वती मां का एक पवित्र मंदिर पिपली रिवर फ्रंट के साथ ही बनाया जाएगा। अभी तक हरियाणा में सरस्वती मां शारदे का कोई भी मंदिर नहीं है। इसलिए इस मंदिर को बनाने की रूपरेखा सरस्वती बोर्ड द्वारा सामाजिक लोगों के साथ मिलकर तैयार की है। वे शनिवार को पिपली जू के सामने सरस्वती नदी के तट पर प्रदीप कुंद्रा द्वारा आयोजित भंडारे के दौरान बातचीत कर रहे थे। इससे पहले उपाध्यक्ष ने मां सरस्वती की पूजा-अर्चना कर भंडारे का शुभारंभ किया।

75 तीर्थ सरस्वती किनारे: आदिबद्री से लेकर कैथल तक 122 गांव सरस्वती के किनारे पर पड़ते हैं, इन 122 गांव में से करीब 75 गांव में सरस्वती के किनारे मंदिर है, जिनमें ज्यादातर शिव मंदिर हैं तथा सभी मंदिरों में हर साल बसंत पंचमी के अवसर पर भंडारों का आयोजन किया जाता है और इसके माध्यम से लोगों में सरस्वती के प्रति जागरूकता बढ़ी है तथा लोगों ने अपने आप सफाई रखनी शुरू की है।

यदि यहां पर भव्य मंदिर बना तो आने वाले समय में यह विश्वस्तरीय पर्यटक स्थल बन जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रेरणा से इस क्षेत्र में काम तेजी से चल रहा है। अक्टूबर माह में यह कार्य सरस्वती रिवर फ्रंट का शुरू हो जाएगा। डॉ. राकेश जंगम, पूर्व सरपंच बीड़ पिपली दिनेश कुमार, राम नारायण मदान, पूर्व भाजपा नेता देशराज शर्मा, माणक सिंह, ऋषभ कुंद्रा, आदित्य मौजूद रहे।

अक्टूबर में होगा मंदिर का निर्माण शुरू
उन्होंने बताया कि हमारी कोशिश है कि अक्टूबर के अंत तक सरस्वती रिवर फ्रंट पिपली का कार्य आरंभ हो जाएगा। सारी प्रक्रियाएं पूरी कर ली हैं। पिपली रिवर फ्रंट आने वाले समय के लिए एक बहुत बड़ा प्रोजेक्ट है। पिपली ऐतिहासिक टूरिस्ट हब बनेगा। क्योंकि दिल्ली से लेकर अमृतसर तक वह चंडीगढ़ तक जीटी रोड पर केवल सरस्वती यहां से क्रॉस होती है, इसलिए यहां पर भव्य मंदिर का निर्माण तथा सरस्वती रिवर फ्रंट के बढ़ने से लोगों का श्रद्धालुओं का व पर्यटकों को एक बड़ा ही सुंदर वातावरण मिलेगा। अभी जितने भी कार्य सरस्वती के चल रहे हैं उनमें एक बड़ा कार्य सरस्वती के मंदिर का निर्माण भी हमारी प्राथमिकता है।

खबरें और भी हैं...