जनता दरबार में सुनी लोगों की फरियाद:मंत्री जी! पुलिस स्कूटी वापसी के लिए मांग रही रिश्वत, मंत्री ने करनाल एसपी को दिए निर्देश

कुरुक्षेत्र11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में गृहमंत्री अनिल विज ने जनता दरबार में प्रदेशभर से आए 2 से 3 हजार लाेगाें की शिकायतें सुनी। कुरुक्षेत्र आयुर्वेदिक यूनिवर्सिटी के लगभग 100 स्टूडेंट्स विज से मिलने पहुंचे। डाॅ. प्रेरणा व डाॅ. संजय जैन ने बताया कि 25 दिन से बीएएमएस के स्टूडेंट्स स्टाइफंड बढ़ाने की मांग काे लेकर धरना दे रहे हैं।

25 दिन में वे 6 बार गृहमंत्री से मिल चुके हैं लेकिन उनकी मांग पर सुनवाई नहीं हुई। मांग है कि एमबीबीएस, वेटरनरी व बीडीएस का काेर्स इंटर्नशिप के साथ साढ़े 5 साल का है, लेकिन बीएएमएस के स्टूडेंट्स काे स्टाइफंड 10 हजार मिलता है। उनका स्टाइफंड भी एमबीबीएस, वेटरनरी व बीडीएस की तरह 17 हजार रुपए तक किया जाए।

पुलिस मांग रही 6-7 हजार रुपए रिश्वत
कुरुक्षेत्र के पिपली से भगवान नगर से आई संगीता चाेपड़ा ने बताया कि पति की डेथ हाे गई है। घर में छाेटे बच्चे हैं। 20 दिन पहले पड़ाेसी विजय मेहरा काे स्कूटी (जाे संगीता के नाम पर है) पर एलसीडी लेने भेजा। विजय का करनाल के किसी व्यक्ति के साथ लेन-देन चल रहा था। वाे व्यक्ति उससे स्कूटी लेकर चला गया। करनाल में रिपाेर्ट लिखवाई गई। पुलिस स्कूटी वापस करने के लिए 6-7 हजार रुपए मांग रही है। विज ने करनाल एसपी काे केस का निपटारा करने काे कहा।

खबरें और भी हैं...