मांग:राजकीय कॉलेज का नाम पितामह कान्ह सिंह करने व विकास कार्याें को लेकर सौंपा ज्ञापन

कनीना16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भाजपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने पहुंचे हलका विधायक सीताराम के समक्ष पितामह कान्ह सिंह मोर्चा के प्रधान विजय यादव के नेतृत्व में ग्रामीणों ने कनीना कॉलेज का नाम पितामह कान्ह सिंह कॉलेज करने व कस्बे के विकास कार्यों को लेकर ज्ञापन सौंपा। बता दें कि शनिवार को हलका विधायक सीताराम यादव पार्टी के कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने के लिए कनीना आए हुए थे।

जिसकी सूचना के बाद पितामह कान्ह सिंह मोर्चा के सदस्यों व कस्बावासियों ने एक ज्ञापन सौंपा जिसके माध्यम से कॉलेज का नाम पितामह कान्ह सिंह किए जाने, कस्बे में विकास कार्यों को जल्द से जल्द शुरू करवाने, सड़क व पानी की निकासी को लेकर चर्चा की गई। जिस पर हलका विधायक ने कस्बावासियों की ध्यानपूर्वक सुना व सभी समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान किए जाने का आश्वासन भी दिया।

उल्लेखनीय है कि 16 अगस्त 2014 से पहले कनीना कॉलेज का नाम पितामह कान्ह सिंह कॉलेज होता था। जिसमें पीजी कक्षाएं भी चलती थी किन्तु 16 अगस्त 2014 को इसका नाम बदलकर गवर्नमेंट कॉलेज कनीना रख दिया तभी से ही पितामह कान्ह सिंह मोर्चा के सदस्यों व ग्रामीणों के द्वारा कॉलेज का नाम फिर से पितामह कान्ह सिंह कॉलेज किए जाने की मांग की जा रही है। इसके अतिरिक्त कनीना कॉलेज में पीजी कक्षाएं शुरू करवाने की मांग भी की गई है।

जिसपर हलका विधायक सीताराम यादव ने कहा कि वे दो-तीन दिनों में इस विषय में शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर इस संबंध में बात करेंगे। इस दौरान नगर पालिका प्रधान सतीश जेलदार, कमल पार्षद, पार्षद मास्टर दलीप सिंह वार्ड नंबर-1, पार्षद प्रहलाद, बजरंग दल के प्रधान विजय सिंह, नितिन, नीरज यादव, प्रीतम, संजीत प्रधान, सतपाल साहब, मोनू, रमन, राकेश कुमार, नवीन शर्मा, दुष्यंत शर्मा, सोनू कुमार, मनीष कुमार, देवेंद्र अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

इसके बाद जब हलका विधायक से कस्बे में बाईपास बनाए जाने के संबंध में बात की गई तो उन्होंने बताया कि इस संबंध में उन्होंने पहले मुख्यमंत्री के समक्ष कस्बे के बाहर-बाहर बाईपास बनाए जाने की मांग रखी थी। जिस पर मुख्यमंत्री ने उन्हें किसानों से बात कर सरकारी रेट पर अपनी जमीन उपलब्ध करवाने की बात कही थी।

उन्होंने किसानों से बात की तो कोई भी किसान सरकारी रेट पर अपनी जमीन को देने पर तैयार नहीं हुआ। उसके बाद से इस विषय में कभी कोई चर्चा नहीं की गई है। वे फिर से बाईपास को लेकर मुख्यमंत्री से बात करेंगे ताकि किसी अन्य स्कीम के तहत कस्बे में बाईपास को बनाया जा सके।

27 एकड़ में बनाया जा रहा है वाटर ट्रीटमेंट प्लांट
कस्बे में सीवरेज व्यवस्था व पानी की निकासी को लेकर हलका विधायक से बात की गई तो उन्होंने बताया कि बरसात का मौसम शुरू होने से पहले कस्बे के सभी सीवरेज को पूरी तरफ से साफ करवा दिया जाएगा। बरसात के मौसम में कस्बे में जलभराव की समस्या नहीं रहने दी जाएगी। वहीं इसके अलावा कस्बे में पानी निकासी के लिए 27 एकड़ जगह में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जा रहा है।

जहां पर कस्बे के सारे सीवरेज पानी की निकासी उचित प्रकार से हो सकेगी। वहीं उन्होंने बताया कि कस्बे के विकास को लेकर मुख्यमंत्री के समक्ष 10 करोड़ रुपए की मंजूरी के लिए फाइल भी लगाई हुई है जल्द ही उस फाइल के पास होते ही कस्बे में विकास कार्यों को गति दी जाएगी।

वहीं उन्होंने बताया कि कस्बे के बीचों-बीच नहर को पाइपों के माध्यम से किया गया है। सड़क बनवाए जाने को लेकर भी संबंधित विभाग से विचार-विमर्श किया जा रहा है। जिसके निर्माण के बाद लोगों को काफी फायदा होगा।

खबरें और भी हैं...