23 लाख का कॉपर जिंक लूटने का प्रयास:नारनौल में ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक ने 2 को पकड़ा; केस दर्ज

नारनौल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नारनौल में कॉपर जिंक चोरी करते हुए। - Dainik Bhaskar
नारनौल में कॉपर जिंक चोरी करते हुए।

हरियाणा के नारनौल में ट्रेलर ड्राइवर की सजगता से 23 लाख रुपए का कॉपर जिंक लूटने से बच गया। कॉपर जिंक लूटने आए 2 लोगों को पकड़ कर पुलिस के हवाले भी किया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस को दी शिकायत में गांव डूमोली खुर्द जिला झुंझुनू के रहने वाले रामशरण ने बताया कि उसने सालासर ट्रांसपोर्ट कंपनी के नाम से खेतड़ी में एक ट्रांसपोर्ट कंपनी खोली हुई है। उसने पाली, रेवाड़ी आईसीडी तक कॉपर जिंक ट्रांसपोर्ट करने का ठेका लिया हुआ है। एक गाड़ी इसी ट्रांसपोर्ट पर लगी हुई है। जिस पर गणेश ड्राइवर है।

ड्राइवर गणेश खेतड़ी से रेवाड़ी के लिए गाड़ी लेकर चला था। रास्ते में नारनौल में राकेश, पप्पू, इंद्र सिंह, लकी, रणवीर, भूपेंद्र और फूलचंद आदि उसे दो अलग अलग गाड़ियों में मिले। यह सभी गाड़ियों को ट्रांसपोर्ट पर किराए के लिए चलाते हैं। वे धोखे से गणेश की गाड़ी नाग तिहाड़ी की नहर के पास खाली प्लाट में ले गए। इस पर गणेश वहां से गाड़ी छोड़कर भाग गया।

कॉपर जिंक लूटने आए बदमाशों की गाड़ी।
कॉपर जिंक लूटने आए बदमाशों की गाड़ी।

इसके बाद यूपी के लखन ने मौके पर जेसीबी बुलवा ट्रेलर गाड़ी से कॉपर जिंक खनिज की चोरी करने की नियत से सील तोड़ दी। उसने माल उतारना शुरू कर दिया। इस बीच ड्राइवर गणेश ने उसके पास फोन कर सारी घटना की जानकारी दी। वह तुरंत अपने साथी अनिल के साथ मौके पर पहुंचा तो वहां पर पप्पू राम और इंद्र सिंह को कॉपर जिंक चुराते पकड़ लिया। अन्य व्यक्ति अंधेरा होने के कारण भाग गए।

इस बारे में उन्होंने अपने अधिकारियों को भी सूचना दे दी। पीड़ित ने दोनों आरोपियों के अलावा अन्य आरोपियों पर कार्रवाई करने के लिए पुलिस में शिकायत दी है। पीड़ित के अनुसार अगर समय रहते ड्राइवर उनको सूचना नहीं देता तो 23 लाख रुपए का कॉपर जिंक वे चुरा लेते। पीड़ित का कहना है कि अब पुरानी गाड़ियों के स्टॉक की भी जांच की जाएगी। इस बारे में पुलिस अब मामले की छानबीन करने लगी है।