हड़ताल:प्रसूति से लेकर एसएनसीयू वार्ड तक की व्यवस्था पर पड़ा विपरीत असर

नारनौलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मांगाें काे लेकर एनएचएम स्वास्थ्य कर्मचारी दाे दिन से आन्दोलनरत, सरकार काे अनिश्चितकालीन हड़ताल अल्टीमेटम

स्वास्थ्य कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर एनएचएम स्वास्थ्य कर्मचारी मंगलवार को दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे। हड़ताल के कारण जिलेभर में आपातकालीन सहित अन्य स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित रहीं। हड़ताल के दौरान जिलेभर के एनएचएम कर्मचारियों द्वारा नागरिक अस्पताल में जिला अध्यक्ष डॉ. पुष्पेन्द्र की अध्यक्षता में धरना दिया। उन्हाेंने स्वास्थ्य विभाग की अन्य कर्मचारी यूनियनों से अपील की है कि हरियाणा सरकार के वित्त विभाग द्वारा एनएचएम कर्मियों के ग्रेड-पे समाप्त करने के कदम को वापिस करवाने में एनएचएम कर्मचारियों के आन्दोलन को सहयोग करें।

चूंकि सरकार लगातार कर्मचारी विरोधी फैसले ले रही है, किसी भी समय कोई भी कैटेगरी पर सरकार कुठाराघात कर सकती है। इसलिए इन तुगलकी फरमानों को रोकने के लिए सभी कर्मचारियों का एकजुट होना जरूरी है। जिला मंत्री विनोद राव ने कहा कि हड़ताल 3 दिन के लिए की गई है। परन्तु विभाग व सरकार की तरफ से अभी तक कोई सकारात्मक सन्देश प्राप्त नहीं हुआ है। इसलिए राज्य स्तरीय विचार-विमर्श करके हड़ताल को अनिश्चितकालीन घोषित किया जाएगा। धरने को अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया।

खबरें और भी हैं...