पेयजल किल्लत:5 दिन से पेयजल संकट से परेशान मंढाणा के लोगों ने लगाया जाम, वाहन चालकों को उठानी पड़ी परेशानी

नारनौलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पेयजल किल्लत के चलते महिलाओं को दिन भर खाली घड़े उठाए इधर-उधर चक्कर लगाने पड़ रहे

गांव मंढाणा में भीषण गर्मी में पिछले 5 दिनों से पेयजल संकट से जूझ रही महिलाओं ने सोमवार को नारनौल-बहरोड़ रोड जाम करके अपना रोष जताया। करीब पौना घंटे तक लगे इस जाम में छोटे-बड़े सैकड़ों वाहन फंस गए। इससे सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइनें लग गई। बाद में सूचना मिलने पर सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंच कर जाम लगा रही महिलाओं की समस्या सुनी। इसके बाद पुलिस ने फोन कर ग्राम सचिव को मौके पर बुलाया। पुलिस के बुलाने पर मौके पर पहुंचे ग्राम सचिव ने शाम तक खराब मोटर को ठीक करवा समस्या का समाधान करने का आश्वासन दिया। ग्राम सचिव व पुलिस के आश्वासन के बाद महिलाओं ने जाम खोल दिया।

जाम लगाकर सड़क पर बैठी महिलाओं ने बताया कि गांव में जनस्वास्थ्य विभाग के बोर से पानी सप्लाई होता है। इस बोर की मोटर पांच दिन पहले खराब हो गई थी। पंचायत का कार्यकाल पूरा हो जाने के बाद अब बोर की देखरेख ग्राम सचिव व बीडीपीओ कर रहा है। ऐसे में ग्रामीण इस खराब मोटर को ठीक करवाने के लिए ग्राम सचिव व बीडीपीओ कार्यालय में लिखित शिकायत कर चुके हैं, परंतु बीडीपीओ व ग्राम सचिव मोटर को ठीक करवाने का नाम नहीं ले रहे हैं। गांव में पिछले पांच दिनों से पेयजल सप्लाई ठप पड़ी है। इसके चलते ग्रामीणों को भीषण गर्मी में पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है।

पेयजल किल्लत के चलते महिलाओं को दिन भर खाली घड़े उठाए इधर-उधर चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। इस प्रकार पानी के जुगाड़ में उनका आधा दिन बीत जाता है। ऐसे में एक ओर जहां उनके दूसरे घरेलू कार्य प्रभावित हो रहे हैं, वहीं भारी परेशानी का सामना भी करना पड़ रहा है। इसके चलते परेशान महिलाओं को रोड जाम कर प्रशासन का ध्यान अपनी इस समस्या की ओर दिलाना पड़ा है। सुबह 11 बजे से 11:40 बजे तक लगे इस जाम में बसों समेत अनेक वाहन फंस गए। ऐसे में उन्हें आवागमन करने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जाम लगाने के करीब 20 मिनट बाद सूचना मिलने पर सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची तथा महिलाओं की समस्या सुनी। इसके बाद पुलिस ने ग्राम सचिव को फोन कर मौके पर बुलाया। करीब 11:40 बजे ग्राम सचिव मंढाणा पहुंचा तथा महिलाओं को आज शाम तक उनकी समस्या का समाधान कराने का आश्वासन देकर जाम खुलवाया।

खबरें और भी हैं...