तालाबंदी करेंगे:एक साल से तहसील में खाली पदों पर नियुक्ति नहीं होने से नाराज लोगों ने किया प्रदर्शन, समाधान के लिए एक सप्ताह का अल्टीमेटम

महेंद्रगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रोष को देखते हुए तहसील में भारी पुलिस बल रहा मौजूद, ग्रामीण बोले- इसे पूरा करवाने के लिए कानून भी हाथ में लेना पड़ा तो लेंगे

शहर की तहसील में तहसीलदार व नायब तहसीलदार का पद करीब एक साल से रिक्त होने के कारण विरोध स्वरूप मंगलवार को क्षेत्र से काफी संख्या में ग्रामीण इलाकों से आए लोगों व सामाजिक कार्यकर्ता ने रोष-प्रदर्शन किया तथा डीसी को ज्ञापन सौंपा। लोगों के रोष को देखते हुए लघु सचिवालय में काफी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। इस दौरान उन्होंने प्रशासन को चेतावनी दी कि अगले मंगलवार तक इस जनसमस्या का समाधान नहीं हुआ तो उन्हें इसे पूरा करवाने के लिए कानून भी हाथ में लेना पड़ा तो लेंगे। तालाबंदी सहित अन्य कोई भी निर्णय वे ले सकते हैं।

महेंद्रगढ़ तहसील में एक महीने में करीब 400 के करीब जमीनों की रजिस्ट्री होती है। परंतु छोटे-बड़े दोनों ही तहसीलदार के पद रिक्त होने के चलते यहां अप्रैल, मई और अब जून माह बीत रहा है। अब तक कुल 590 रजिस्ट्रियां अतिरिक्त कार्यभार पर लगाए गए अधिकारियों के माध्यम से हो पाई है। 3 जून के बाद तो एक भी रजिस्ट्री नहीं हो पाई है। लोग 10-10 बार रजिस्ट्री के लिए ऑनलाइन टोकन ले चुके हैं, परंतु रजिस्ट्रियां नहीं होने से न केवल आर्थिक नुकसान उठा रहे हैं, बल्कि मानसिक रूप से भी लोग परेशान है। वरिष्ठ नागरिक, बच्चे व महिलाएं अपने कार्यों के लिए महीने भर से तहसील के चक्कर काटकर परेशान है परंतु यहां सुनने वाला कोई नहीं हैं। लोगों ने कहा कि प्रदेश में शायद नई सरकार बनने के बाद ही यहां स्थाई रूप से तहसीलदार व नायब तहसीलदार आएं। यह सरकार लोगों को सुशासन का नारा तो दे सकती है परंतु सुशासन देने में असमर्थ साबित हो रही है।

खबरें और भी हैं...