रोष प्रदर्शन:कांटी में राशन कार्ड धारकों को खराब गेहूं वितरित करने पर डिपो धारक के खिलाफ कार्रवाई की मांग

मंडी अटेली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव में 400 के करीब राशन कार्ड धारकों को राशन मिलता है

अटेली खंड के गांव कांटी में खाद्य आपूर्ति विभाग के डिपो होल्डर द्वारा राशन कार्ड धारकों को खराब, सड़ा-गला घूण लगा हुआ गेहूं वितरित किए जाने से ग्रामीण उपभोक्ताओं में भारी रोष व्याप्त है। बहुजन समाज पार्टी के अतरलाल एडवोकेट ने हरियाणा के खाद्य आपूर्ति मंत्री और राज्य खाद्य आपूर्ति कंट्रोलर को ज्ञापन भेजकर डिपो होल्डर का लाइसेंस तत्काल रद्द कर उसके खिलाफ कार्यवाही करने तथा उपभोक्ताओं को न्याय प्रदान करने की मांग की है। ज्ञापन की प्रति जिला उपायुक्त, जिला खाद्य आपूर्ति कंट्रोलर तथा गुरुग्राम के आयुक्त को भी भेजी गई है।

जानकारी देते हुए अतरलाल ने कहा कि उन्हें जनसंपर्क के दौरान कांटी गांव के बीपीएल, एपीएल व ओपीएच श्रेणी के राशन कार्ड धारकों ने शिकायत पत्र देकर बताया कि जून माह का डिपो होल्डर द्वारा जो गेहूं बांटा गया है, वह सड़ा गला है। वह खाने लायक नहीं है। गेहूं कंधा हुआ, गीला तथा घुण लगा हुआ है।

जब उन्होंने खराब गेहूं की शिकायत डिपो होल्डर से की तब डिपो होल्डर ने उनके साथ बदतमीजी की और कहा कि जहां शिकायत करनी है वहां कर लो। ग्रामीणों ने इस बात की शिकायत भी की कि डिपो होल्डर सही समय पर राशन नहीं देता और एक बार खाना पूर्ति कर चला जाता है। इस प्रकार उपभोक्ता डिपो होल्डर के घर के चक्कर लगा-लगा कर परेशान हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि गांव में 400 के करीब राशन कार्ड धारकों को राशन मिलता है। जो डिपो होल्डर की तानाशाही के कारण परेशान हो रहे हैं। ज्ञापन में राज्य सरकार जिला प्रशासन तथा खाद्य आपूर्ति विभाग ने तत्काल पीडि़त उपभोक्ताओं की शिकायत का निवारण करे।

खबरें और भी हैं...