भगवान विष्णु की अष्टधातु की मूर्ति गायब:नारनौल के ढोसी धाम में स्थापित बेशकीमती प्रतिमा और 3 लड्‌डू गोपाल चोरी; 5 पर FIR

नारनौल5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा में नारनौल के ऐतिहासिक धार्मिक स्थल ढ़ोसी धाम से लगभग 30 किलो वजन की अष्ट धातु से बनी भगवान विष्णु की बेशकीमती मूर्ति चोरी हो गई है। यहां से पीतल से बने 3 लड्‌डू गोपाल और भगवान विष्णु की एक अन्य मूर्ति भी चुराई गई है। पुलिस ने अजय, मोहन, रामसिंह समेत 5 व्यक्तियों पर केस दर्ज किया है। आरोप है कि ये पूजा पाठ के बहाने यहां ठहरे थे और मूर्तियों को चुरा कर फरार हो गए। पुलिस फिलहाल इनका कोई सुराग नहीं लगा पाई है।

च्यवन ऋषि का है धार्मिक स्थल

बता दें कि नारनौल शहर के करीब 8 किलोमीटर दूर पश्चिम में ढ़ोसी की पहाड़ियों पर च्यवन ऋषि का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है। लोग च्यवन ऋषि की छवि के दर्शन के लिए दूर-दूर से यहां आते हैं। इसी ढोसी धाम में भगवान विष्णु की करीब 30 किलोग्राम वजन की अष्ट धातु की मूर्ति थी, जो कि अब चोरी हो गई है। इसको लेकर धाम के मंहत नृरसिंह दास ने नारनौल सदर पुलिस को दी शिकायत में कहा कि वह पहाड़ी चन्द्र कुई च्यवन श्रीमन्दिर मे पूजा पाठ करता है और बचपन से ही यहां महाराज की सेवा मे है।

मंदिर में ठहरे इन लोगों पर चोरी का शक

महंत ने बताया कि 24 जून को अजय व मोहन निवासी गांव थाना, रामसिंह निवासी मौखुता बामणवास , एक जोगी और मीणा निवासी बडगांव मंदिर में मौजूद थे। जोगी और मीणा दिन के समय करीब 3-4 बजे के बीच उसके पास आये थे। अजय भार्गव मंदिर मे पूजा पाठ के नाम पर ठहरा हुआ था। उसके पास मोहन, रामसिंह भी थे। जोगी और मीणा अजय को पहले से जानते थे और मूर्ति चोरी होने से पहले अजय के पास गये थे। महंत का कहना है कि उसे पूरा विश्वास है कि अष्ठ धातु कि लगभग 30 किलो की मूर्ति और 3 लड्डू गोपाल पीतल की मूर्ति इन लोगों ने चुराई है। लड्‌डू गोपाल की एक मूर्ति करीब एक किलो वजन की थी और दो अन्य मूर्तियां इससे छोटी थी।

महंत को दी धमकी

महंत नृरसिंह दास ने पुलिस को बताया कि मूर्ति की चोरी का पता चलने के बाद उसने मंदिर में ठहरे अजय से बात की तो उसने धमकी दी कि अगर किसी को इस बारे में बताया तो तेरे लिए ठीक नही होगा। महंत के साथ क्षेत्र के मौजिज लोगों सुमित, राहुल, रविन्द्र, रोहित, सोनू आदि ने भी पुलिस से आरोपियों को गिरफ्तार कर भगवान विष्णु की अष्ट धातु की बेशकीमती मूर्ति को बरामद कराने और आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की गुहार लगाई है।

केस दर्ज, आरोपी फरार

ढ़ोसी धाम में अष्ट धातु की मूर्ति की चोरी की सूचना पर थाना सदर नारनौल से जांच अधिकारी मुकेश कुमारी ने मौके का मुआयना किया। महंत और आसपास मौजूद लोगों से घटना का ब्यौरा लिया। पुलिस ने अजय, मोहन, रामसिंह और जोगी व मीणा के खिलाफ धारा 457/380 IPC के तहत केस दर्ज किया है। आरोपी फरार हैं और पुलिस उनकी तलाश में छापेमारी कर रही है।

ये ढ़ोसी धाम की महता

ढ़ोसी की पहाड़ी को महर्षि च्यवन की तपोस्थली माना जाता है। मान्यता है कि इसी आश्रम में उन्होंने विश्व प्रसिद्ध औषधि च्यवनप्राश का निर्माण किया था। आश्रम में सोमवती अमावस्या को विशाल मेले का आयोजन किया जाता है। ढोसी पहाड़ी में आयुर्वेद के महान तत्व पाए जाते हैं। लगभग 5100 वर्ष पूर्व पांडव भी अपने अज्ञातवास के दौरान यहां आए थे। पहाड़ी को ज्वालामुखी कहा जाता है और आज भी पहाड़ी के एक तरफ ठोस लावा देखा जा सकता है, जो कि लाखों वर्ष पुराना है।

खबरें और भी हैं...