पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • 28% People Are Committing Electricity Theft In The State, Checking Of 96,293 Connections Of Vigilance In Nine Years Was Stolen On 27,199

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिजली चोरी:प्रदेश में 28 % लोग कर रहे बिजली चोरी, नौ सालों में विजिलेंस की 96,293 कनेक्शनों की जांच में 27,199 पर हो रही थी चोरी

राजधानी हरियाणा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्ष 2012-13 में जांचे कनेक्शनों में 22.71 प्रतिशत पर चोरी मिली, 2019-20 में 35.43% पर चोरी हो रही थी

भले ही सरकार ने बिजली के रेट पिछले लंबे समय से नहीं बढ़ाए, परंतु प्रदेश में बिजली चोरी कम नहीं हो रही है। राज्य में आज भी औसत 28.24 प्रतिशत तक उपभोक्ता किसी न किसी तरीके से बिजली की चोरी कर रहें हैं। यह चोरी सबसे ज्यादा घरों में हो रही है। बिजली निगम के करीब नौ वर्ष के आंकड़ों पर गौर करें तो बिजली चोरों का प्रतिशत लगातार बढ़ रहा है।

हालांकि चालू वित्त वर्ष में इसमें कमी जरूर आई है, लेकिन इसकी वजह यह है कि पहले तीन माह में कोरोना संक्रमण की वजह से बिजली चोरी को लेकर निगम की टीमों ने कोई एक्शन नहीं लिया। प्रदेश में करीब नौ वर्षों में 96,293 बिजली कनेक्शनों की जांच हुई, जिसमें 27,199कनेक्शनों पर बिजली चोरी पकड़ी गई।

इसे लेकर निगम की ओर से न केवल जुर्माना लगाया गया। यह आंकड़ा सिर्फ विजिलेंस यूनिट का है। खास बात यह है कि इस रिपोर्ट में यह भी सामने आया है कि बिजली चोरी लगातार बढ़ती जा रही है। 2012-13 में जहां 22.71 प्रतिशत कनेक्शनों पर बिजली चोरी मिली थी, वहीं यह 2019-20 में 35.43 प्रतिशत पर हो रही थी। 2020-21 के पहले तीन माह अप्रैल से जून तक कोरोना संक्रमण की वजह से जांच नहीं हुई। इसके बाद जनवरी तक के छह माह में भी 25.01 प्रतिशत कनेक्शनों पर चोरी होती मिली है।

चुनावी मौसम में सुस्त हो जाती है कार्यवाही

बिजली निगम की ओर से की गई जांच में इन नौ वर्षों में 3,10, 750एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। हालांकि सत्य यह भी है कि निगम की ओर चुनावी वर्ष में कार्यवाही कम की जाती है। नौ वर्षों में 2014 के चुनावी साल में 9239 एफआईआर दर्ज हुई। इसके बाद फिर एक्शन बढ़ा। 2019 के फिर आए चुनावी साल में कुल 28328 एफआईआर दर्ज की गई। जबकि इसके बाद फिर संख्या में बढ़ोतरी हुई। 2020 में ही 62,605 बिजली चोरी की एफआईआर दर्ज हुई हैं।

चोरी रोकने के किए जा रहे प्रयास: एसीएस

बिजली चोरी रोकने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। लोगों को समझाने के अलावा बाहर मीटर लगाए गए हैं। लगातार टीमें चोरी करने वालों पर नजर रखे हुए है।
-पीके दास, एसीएस, बिजली विभाग

नोट: 2020-21 में कोरोना की वजह से अप्रैल से जून तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। आंकड़ा जुलाई से जनवरी तक का है।
नोट: 2020-21 में कोरोना की वजह से अप्रैल से जून तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। आंकड़ा जुलाई से जनवरी तक का है।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें