पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • 40% Of Random Samples Found Other Mutants, The Highest 81% Of These Variants, With The Government Expected To Peak By 15 May

कोरोना संकट:40% रैंडम सैंपलों में दूसरे म्यूटेंट मिले, इनमें सबसे ज्यादा 81% यूके वैरिएंट, सरकार को 15 मई तक पीक आने की उम्मीद

राजधानी हरियाणाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना संक्रमण रोकने की तैयारियों के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों के साथ बैठक की। - Dainik Bhaskar
कोरोना संक्रमण रोकने की तैयारियों के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों के साथ बैठक की।
  • प्रदेश में 24 घंटे में 14049 नए मरीज मिले, 167 की मौत
  • पीक में सक्रिय मरीज डेढ़ लाख तक होने का अनुमान

प्रदेश में गुरुवार को 14,049 नए कोरोना संक्रमित मिले। 167 मरीजों की मौत हो गई। साथ ही 12,246 मरीज ठीक भी हुए। राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 1,16,239 हो गई है। इसी बीच, प्रदेश में तेजी से फैल रहे संक्रमण को लेकर एक चिंताजनक जानकारी सामने आई है।

जीनोम जांच के लिए भेजे 2857 सैंपलों में से 922 की रिपोर्ट आ चुकी है। इनमें से 40% (367) सैंपलों में दूसरे म्यूटेशन मिले हैं। इनमें भी सबसे ज्यादा 81% (310) सैंपलों में यूके वैरिएंट मिला है। 12% में ऐसा वैरिएंट है, जो चिंता बढ़ाने वाला है। 1% मामलों में ही ऐसा वैरिएंट मिला है, जिसमें चिंता की कोई बात नहीं है। दूसरी तरफ, सरकार को उम्मीद है कि 15 मई तक प्रदेश में दूसरी लहर का पीक आ सकता है। तब प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 1.50 लाख तक हो सकती है।

सभी तैयारियां अभी इसी आकलन के हिसाब से की जा रही हैं। संक्रमण रोकने के लिए गांवों में रेपिड एंटीजन टेस्टिंग भी की जाएगी। आरटी-पीसीआर के लिए भी 8 नई लैब शुरू की जाएंगी। अभी 19 सरकारी व 21 प्राइवेट लैब में 90 हजार सैंपल जांचने की क्षमता है।

जरूरत | 7 दिन में 5600 और बेड की व्यवस्था करनी पड़ेगी

सरकार का आकलन है कि 15 मई तक प्रदेश में 1.50 लाख से अधिक सक्रिय मरीज होंगे। इसे ध्यान में रखकर ही तैयारी की जा रही है। अभी 84% मरीज घरों में और 16% अस्पतालों में हैं। ऐसे में 35 हजार मरीज और बढ़ने पर 5600 अतिरिक्त बेड्स की जरूरत पड़ेगी। अभी प्रदेश में 66 हजार बेड्स की व्यवस्था है। ऑक्सीजन, आईसीयू और वेंटिलेटर बेड 13,728 हैं। इनमें से 3100 ही उपलब्ध हैं।

तैयारी | राज्य के 5 मेडिकल कॉलेजों में क्रिटिकल केयर सेंटर बनाए जाएंगे

  • चार सरकारी और एक एडिड मेडिकल कॉलेज में क्रिटिकल केयर सेंटर बनेंगे। 100-100 बेड होंगे।
  • इन सेंटरों में ऑक्सीजन से लेकर आईसीयू और वेंटीलेटर समेत सुपर स्पेशियलिटी की सुविधा होगी।
  • उपकरण, वेंटिलेटर आदि की खरीद का ऑर्डर दे दिया है। 7 से 10 दिन में खरीद शुरू होने की उम्मीद।
  • रोहतक में 1000, फरीदाबाद में 200, हिसार- पानीपत में 500-500 बेड के अस्पताल पर काम शुरू हो चुका।

ट्रेनिंग | अस्पतालों में वेंटिलेटर चलाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा

  • वेंटिलेटर चलाने के लिए प्रदेश में अभियान के तहत एक-दो लोग ट्रेनिंग के लिए भेजे गए हैं।
  • स्वास्थ्य महानिदेशक ने 30 डॉक्टरों को महीने के लिए अलग-अलग जगह डेपुटेशन पर भेजा है।
  • प्रदेश के विभिन्न सीएचसी, पीएचसी और सरकारी अस्पतालों में 60 ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे।
  • प्रदेश को 12,700 रेमडेसिविर इंजेक्शन मिले हैं। इनके लिए हर जिले में कमेटी बनाई गई है।

जागरूकता | कोरोना के खिलाफ जंग में उतरेंगे 7550 शिक्षक

कोरोना संक्रमण के खिलाफ जंग में सीनियर आईएएस से लेकर मंत्रियों तक के मैदान में उतरने के बाद अब शिक्षकों की भी ड्यूटी लगेगी। साइंस एंड बायोलॉजी के 7550 टीजीटी और पीजीटी शिक्षकों को शुक्रवार से इसके लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। शिक्षक अपने-अपने क्षेत्रों में लोगों को कोविड प्रोटोकॉल का पाठ पढ़ाएंगे। होम आइसोलेशन में मरीजों का ध्यान रखना भी सिखाएंगे। ट्रेनिंग 12 मई तक ऑनलाइन होगी। इनके साथ ट्रेनिंग में आशा वर्कर, एएनएम, एमपीएचडब्ल्यू भी शामिल होंगे।

खबरें और भी हैं...