पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मानसून सूखा जाए रे:जुलाई के 7 दिन में 69% कम बारिश, 11 जिले यलो, 8 जिले रेड जोन में आए

हरियाणा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश में 13 दिन पहले एंट्री कर चुका मानसून अब सूखा ही बीता जा रहा है। - Dainik Bhaskar
प्रदेश में 13 दिन पहले एंट्री कर चुका मानसून अब सूखा ही बीता जा रहा है।

प्रदेश में 13 दिन पहले एंट्री कर चुका मानसून अब सूखा ही बीता जा रहा है। इससे तापमान बढ़ता जा रहा है। बुधवार को गुड़गांव में दिन का तापमान 44.7 डिग्री पर पहुंच गया। यह सामान्य से 7 डिग्री ज्यादा है। कई इलाकों में लू ने लोगों को बेहाल किया। जुलाई में बारिश की कमी भी लगातार बढ़ती जा रही है।

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, 1 से 7 जुलाई तक हरियाणा में 7.1 मिलीमीटर बारिश हुई है। जबकि इस अवधि में 23.1 मिमी. बारिश सामान्य मानी जाती है। यानी 69% कम बारिश हुई। जुलाई में बारिश की कमी इतनी हो चुकी है कि पानीपत समेत 8 जिले रेड जोन और 11 जिले यलो जोन में आ चुके हैं।

रेवाड़ी सामान्य बारिश के कारण ग्रीन जोन में है। सिर्फ नूंह जिला सामान्य से ज्यादा बारिश होने के कारण ब्ल्यू जोन में है। मौसम विभाग के अनुसार, 9 जुलाई की रात से मॉनसून सक्रिय होने का अनुमान है। इससे बरसात की कमी धुल सकती है।

चिंता- मॉनसून सीजन में अब तक सामान्य से 20% कम बारिश

माॅनसून सीजन में अब तक (1 जून से 7 जुलाई तक) 56.5 मिमी. बारिश हुई है, जो सामान्य से 20% कम है। 22 जिलों में से 2 में बहुत कम, 12 में कम, 4 में सामान्य, 3 में सामान्य से अधिक, एक जिले में बहुत अधिक बारिश हुई है। 60% हरियाणा में कम बारिश हुई है।

आगे‌ क्या?- 9 जुलाई से 5-6 दिन अच्छी बारिश के आसार

आईएमडी के पूर्व निदेशक डॉ. डीपी दुबे के अनुसार, हरियाणा में 9 जुलाई की रात से माॅनसून के सक्रिय होने के आसार हैं। बंगाल की खाड़ी की ओर से नमी वाली हवाएं आएंगी। इससे हरियाणा में 5-6 दिन बारिश हो सकती है। इससे गर्मी से राहत मिलेगी।

खबरें और भी हैं...