• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Allegations Of Molestation And Sexual Harassment Not Proved, 60 Year Old Disabled Old Man Filed Defamation Case Of 1 Crore Against Woman

यौन शोषण और डिफेमेशन:छेड़छाड़ के आरोप साबित नहीं हुए, 60 साल के दिव्यांग बुजुर्ग ने महिला पर किया 1 करोड़ का मानहानि का केस

चंडीगढ़/पंचकूला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मानहानि का केस चंडीगढ़ जिला अदालत में दायर किया गया है। - Dainik Bhaskar
मानहानि का केस चंडीगढ़ जिला अदालत में दायर किया गया है।

हरियाणा सरकार के एक ऑफिस में कार्यरत जनरल मैनेजर 60 साल के राकेश खुराना ने एक महिला कर्मचारी पर एक करोड़ का मानहानि का मुकदमा किया है। खुराना 70 फीसदी दिव्यांग हैं। महिला ने उन पर सेक्सुअल हैरासमेंट के आरोप लगाए थे। उस महिला की शिकायत पर पुलिस ने खुराना के खिलाफ केस भी दर्ज किया था, लेकिन हरियाणा सरकार की जांच कमेटी ने उन्हें क्लीन चिट दे दी।

इसके बाद अब खुराना ने उस महिला के खिलाफ मानहानि का केस चंडीगढ़ जिला अदालत में दायर किया है। इस मामले में कोर्ट ने महिला को जवाब देने के लिए नोटिस कर दिया है। मामले की सुनवाई अब 17 मई को होगी। खुराना के वकील अमर विवेक अग्रवाल ने बताया कि उस महिला के खिलाफ डिपार्टमेंट की ओर से कई शोकॉज नोटिस जारी किए गए थे।

उस पर डिपार्टमेंट में गड़बड़ियों के आरोप थे और इन्हीं आरोपों से बचने के लिए उसने खुराना के खिलाफ झूठी शिकायत दी। सबसे पहले डिपार्टमेंट के MD ने सितंबर 2019 में महिला को शोकॉज नोटिस दिया था। उस पर हाउस रेंट अलाउंस के नाम पर गड़बड़ी के आरोप थे। फिर उसे सैलरी के गलत एरिया क्लेम करने के नाम पर शोकॉज नोटिस दिया गया।

20 मई 2020 को उसे एक और शोकॉज नोटिस दिया गया। कुछ दिनों बाद उस महिला ने पुलिस में खुराना के खिलाफ शिकायत दे दी। महिला ने खुराना पर शारीरिक छेड़छाड़ के आरोप लगाए। पुलिस ने उसकी शिकायत पर 3 महीने जांच की। फिर 12 नवंबर 2020 को पुलिस ने खुराना के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। उन्हें 25 नवंबर 2020 को कोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई।

इसके बाद मुख्यमंत्री हरियाणा की ओर से कमेटी अगेंस्ट सेक्सुअल हरासमेंट का गठन किया गया। इस कमेटी ने अपने लेवल पर मामले की जांच शुरू की। कमेटी ने उसी ऑफिस में काम करने वाली कई महिलाओं और अन्य कर्मचारियों के बयान लिए। जांच के बाद 1 अप्रैल 2021 को कमेटी की रिपोर्ट आई जिसमें खुराना को क्लीन चिट मिल गई। कमेटी ने जांच रिपोर्ट में लिखा कि महिला ने झूठी शिकायत दी थी।

खबरें और भी हैं...