• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Anil Vij's Taunt On Hooda Congress's Ship Is Half Sunk; That's Why Hooda Recites Such Lullabies To His Comrades

अनिल विज का हुड्‌डा पर तंज:बोले- कांग्रेस का जहाज आधा डूब चुका है; इसलिए वह अपने साथियों को ऐसी लोरियां सुनाते हैं

चंडीगढ़एक महीने पहले
हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज। - Dainik Bhaskar
हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज।

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने 8 पूर्व विधायकों को पार्टी में शामिल करने और भाजपा के भी कई पूर्व और मौजूद विधायक उनके संपर्क में हाेने का दावा किया है। हुड्‌डा के इस बयान पर पलटवार करते हुए विज ने कहा कि जो जहाज डूब रहा होता है वो अपने साथियों को दिलासा देने के लिए कई बातें करता है। कांग्रेस का जहाज आधा डूब चूका है और आधा पानी में जाने वाला है। इसलिए हुड्‌डा अपने साथियों को ऐसी लोरियां सुनाते रहते हैं।

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला के बयान पर विज ने तंज कसते हुए कहा कि सुरजेवाला उल्टा सोचना कब बंद करेंगे। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों के शोषण को रोकने के लिए ही हरियाणा रोजगार कौशल निगम बनाया गया है ताकि ठेकेदार इनका शोषण बंद करें।

महबूबा मुफ्ती आम आदमी के अधिकारों को दबाना चाहती

इसके साथ उन्होंने महबूबा मुफ्ती के बयान पर कहा कि किसी भाजपाई ने कोई बात नहीं कही है और आम आदमी को अपनी बात कहने का अधिकार है व कोर्ट को सुनने का अधिकार है। कोर्ट को उस पर फैसला सुनाने का अधिकार है। अब महबूबा मुफ्ती आम आदमी के मौलिक अधिकारों का भी गला दबाना चाहती हैं, वो चाहती है कि आम आदमी का यह अधिकार भी छीन लिया जाए, लेकिन किसी प्रजातांत्रिक देश में ऐसा हो नहीं सकता। भाजपा सांसद अरविंद शर्मा और मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सार्वजनिक खींचतान के संबंध में किए गए सवाल के जवाब में विज ने कहा कि मामला हाईकमान के संज्ञान में हैं जिसे सुलझा लिया जाएगा।

आप की रैली में कोई रोडे नहीं अटकाएगा

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की कुरुक्षेत्र में 29 मई को रैली में आप नेताओं के रोडे अटकाने वाले बयानों के संबंध में विज ने कहा कि सभी पार्टियों को अपनी बात रखने का अधिकार है, वो आएं अपनी बात रखें कोई उन्हें रोकेगा नहीं। मैं इसकी जिम्मेवारी लेता हूं। पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा स्वास्थ्य मंत्री को करप्शन के मामले में गिरफ्तार करवाने पर कहा कि यदि ईमानदारी से यह काम किया गया है तो यह सराहनीय है।