• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Bambiha Gang's Hand, Not Lawrence Gang In Ambala Firing Case Double Murder; Written On Social Media Sorry! Innocent Killed

अंबाला फायरिंग केस:डबल मर्डर में लॉरेंस गैंग नहीं, बंबीहा गैंग का हाथ; सोशल मीडिया पर लिखा-सॉरी! बेकसूर मारे गए

अंबाला10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अंबाला में फायरिंग की वारदात के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और आसपास के लोग। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
अंबाला में फायरिंग की वारदात के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और आसपास के लोग। -फाइल फोटो

अंबाला में हुई गैंगवार में नए खुलासे हो रहे हैं। बंबीहा गैंग की पोस्ट ने पुलिस को असमंजस में डाल दिया है। बीते दिनों चंडीगढ़ नंबर की एक गाड़ी पर फायरिंग में पंजा और राहुल नामक युवक मारे गए, जबकि निशाने पर जमानत पर आए हुए मनीष और मन्नी थे। गैंग की तरफ से एक पोस्ट सांझा करते हुए इस घटना पर खेद प्रकट किया गया है कि बेकसूर मारे गए। हमें माफ कर दिया जाए।

बता दें कि अंबाला के कालका चौक पर 25 मार्च को एक कार के आगे कार अड़ाकर कुछ बदमाशों ने अंधाधुंध गोलियां बरसाई और फरार हो गए। घटना में चंडीगढ़ नंबर की कार में पंजाब के मौली गांव के रहने वाले 32 वर्षीय राहुल और पंजा की मौत हो गई, वहीं दो युवक घायल हो गए थे।

मिली जानकारी के अनुसार जुलाई 2019 में अंबाला शहर जेल में लॉरेंस और भुप्पी राणा गैंग के गुर्गों के बीच में जेल में खूनी संघर्ष हो गया था। दोनों ही पक्ष के लोग घायल हुए थे। करीब 84 लोगों के खिलाफ बलदेव नगर पुलिस ने मामला दर्ज किया था। इसी मामले में राहुल और प्रदीप उर्फ पंजा पेशी पर आए थे।

पुलिस इस हत्याकांड में लॉरेंस बिश्नोई गैंग का हाथ मान रही थी, लेकिन अब तहकीकात में दूसरे गैंग का नाम आया है। इस मामले पर बंबीहा गैंग की तरफ से एक के बाद एक पोस्ट की जा रही हैं। इनसे साफ हो रहा है कि मनीष और मन्नी भी कोर्ट में पेशी पर चंडीगढ़ से आए थे। चंडीगढ़ की नंबर की गाड़ी की फेर में बंबीहा गैंग के शूटरों ने दूसरे लोगों पर गोलियां चला दी। बंबीहा गैंग ने बाउंसर अमित शर्मा उर्फ मीत हत्याकांड के मन्नी और मनीष की हत्या बदला लेने की पोस्ट सोशल मीडिया पेज पर अपलोड की और कुछ देर बाद ही हटा दी। तब तक बंबीहा गैंग समझ रहा था कि मन्नी और मनीष की मौत हुई है, जबकि मरने वाले पंजा और राहुल थे। ऐसे में बंबीहा गैंग ने फिर से पोस्ट कर कहा कि गलतफहमी में बेकसूरों की हत्या कर दी। इसके लिए उनके परिजनों से माफी मांगते हैं और साथ में चेतावनी भी दी कि जिनका काम करना था, उनको बिल्कुल नहीं छोड़ेंगे। इसके बाद पुलिस ने भी चुप्पी साध रखी है।

खबरें और भी हैं...