पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Carpenter Of Territorial Army Called Himself Captain And Cheated 12 Lakh Rupees Form 4 Boys Of Hisar, Fraud Arrested After 3 Years

सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी:टेरिटोरियल आर्मी के कारपेंटर ने खुद को कैप्टन बताया और ठग लिए 12 लाख रुपए, 3 साल बाद हुई गिरफ्तारी

हिसार22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सेना में भर्ती के नाम पर ठगी के कई मामले सामने आ चुके हैं, बावजूद इसके नौजवान अलर्ट नहीं होते। - Dainik Bhaskar
सेना में भर्ती के नाम पर ठगी के कई मामले सामने आ चुके हैं, बावजूद इसके नौजवान अलर्ट नहीं होते।
  • घटना 16 मार्च 2017 की है और केस 2018 में दर्ज हुआ था

टेरिटोरियल आर्मी (प्रादेशिक सेना) के कारपेंटर ने खुद को कैप्टन बताकर सेना में नौकरी दिलवाने के नाम पर हिसार के 4 युवकों से 12 लाख रुपये ठग लिए। घटना 16 मार्च 2017 की है और केस 2018 में दर्ज हुआ था। 3 साल बाद हिसार पुलिस ने ठगी के इस मामले में आरोपी लुधियाना के नूरपुर निवासी प्रदीप उर्फ पीर को गिरफ्तार किया है।

आरोपी प्रदीप उर्फ पीर ने भैणी बादशाहपुर वासी प्रवीण कुमार व प्रवीन, सीसवाला वासी सुखबिंदर, मेहंदा वासी राजेश से सेना में भर्ती करवाने के नाम पर 12 लाख रुपए ठगे थे। अब आरोपी 3 दिन के पुलिस रिमांड पर है। पीड़ित प्रवीण के अनुसार, वह चारों 16 मार्च 2017 को पंजाब के लुधियाना में आर्मी भर्ती में गए थे। भर्ती में वह फिजिकल में फेल हो गए थे।

इस दौरान स्टेडियम के बाहर आरोपी प्रदीप आया और खुद को आर्मी में कैप्टन बताते हुए उन्हें 3 लाख रुपए में आर्मी में भर्ती करवाने की बात कही। प्रवीण के अनुसार, उन चारों ने प्रदीप को 12 लाख रुपए दे दिए। जब एक साल बाद भी उनका कोई ज्वॉइनिंग लेटर नहीं आया तो आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया गया।

खबरें और भी हैं...