• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Congress State President Udaybhan And Legislature Party Leader Bhupendra Hooda Called A Press Conference

कांग्रेस में लौटे 8 पूर्व MLA:सैलजा ने सेलवाल, राठौर, घोड़ेला को पार्टी से निकाला था; हुड्‌डा वापस लाए

चंडीगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष उदयभान व पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा पूर्व विधायकों को पार्टी में शामिल करवाते हुए। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष उदयभान व पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा पूर्व विधायकों को पार्टी में शामिल करवाते हुए।

हरियाणा विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष उदयभान ने सोमवार शाम को 8 पूर्व विधायकों को पार्टी किया। पार्टी में शामिल होने वालों में पूर्व विधायक राकेश कंबोज, परमिंदर ढुल, नरेश सेलवाल, शारदा राठौर, जिले राम शर्मा, रामनिवास घोडेला, रामभगत शर्मा, वेद नारंग ने पार्टी की सदस्यता हासिल की। इन पूर्व विधायकों में से कुछ को कांग्रेस की तत्कालीन प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते 6 साल के लिए निष्कासित किया था। क्योंकि इन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा था। परंतु ढाई साल बाद ही इन्हें पार्टी में शामिल कर लिया गया।

पूर्व सीएम हुड्‌डा ने कहा कि जिन साथियों ने कांग्रेस में आस्था व्यक्त की है। मैं उनका स्वागत करता हूं। इन सभी की घर वापसी हुई। बेहतर और सबसे बढ़िया कांग्रेस पार्टी है। आज जो लोग आए है, ये शीशा दिखा रहे हैं। आज हरियाणा के लोग कांग्रेस को विकल्प मानते हैं और मौजूदा नेतृत्व में आस्था जता रहे हैं। हुड्‌डा ने कहा कि नगर पालिका और नगर परिषद के चुनाव पार्टी सिंबल पर लड़ने के संबंध में एक कमेटी बनाकर फैसला लेगी। पूर्व सीएम ने कहा कि जो भी पूर्व विधायक शामिल हुए है, उन्हें टिकट की कोई शर्त नहीं रखी। टिकट मेरिट के आधार पर दी जाएगी। प्रदेशाध्यक्ष उदयभान ने कहा कि जो आजाद चुनाव लड़े थे, 6 वर्षों के लिए निष्कासित किया जाता है। परंतु यदि वह योग्य है, तो उसे परिस्थितियों के अनुसार वापस लिए जा सकते हैं।

खट्‌टर के साथ मेरी भी मित्रता

पूर्व सीएम ने कुलदीप बिश्नोई की सीएम मनोहर के साथ मुलाकात के सवाल पर कहा कि राजनीति में मित्रता होती है। मेरी भी खट्‌टर साहिब के साथ मित्रता है। हुड्‌डा ने कहा कि राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के विधायक कांग्रेस को वोट देंगे। उम्मीदवार का फैसला पार्टी हाईकमान करेगी। क्रास वोटिंग नहीं होगी। पिछली बार हमारे किसी विधायक ने कोई गड़बड़ी नहीं की थी। अबकी बार हमारे विधायकों को तजुर्बा हो गया है। नरेश सेलवाल के विधायक रहते हुए हुड्‌डा के खिलाफ खुली खिलाफत के सवाल पर पूर्व सीएम ने कहा कि मेरे नरेश से कोई मतभेद नहीं है। कार्यकारी अध्यक्षों के न आने पर हुड्‌डा ने कहा कि सभी अपने अपने कार्य में लगे होंगे।

अभय चौटाला को कहा था अच्छा वकील कर लो

पूर्व सीएम ओपी चौटाला को आय से अधिक संपत्ति में दोषी करार दिए जाने के मामले पर पूर्व सीएम ने कहा कि चौटाला के समय में जब मुकदमा दर्ज हुआ, तब केंद्र में भाजपा की सरकार थी। मैनें अभय चौटाला को भी कहा था कि अच्छा वकील कर लो। इस केस से मेरा कोई वास्ता नहीं। सीबीआई ने जांच की। दूसरों की निंदा करने से पहले अपना गिरेबान झांके।