• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Congress Will Recommend Cancellation Of Membership Of Kuldeep Bishnoi; Party High Command In Preparation For Action; Kuldeep Did Cross Voting

कांग्रेस ने कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से निकाला:राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग के बाद हाईकमान का एक्शन, सदस्यता रद्द कराने स्पीकर के पास जाएगी पार्टी

चंडीगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कांग्रेस हाईकमान ने हरियाणा में अपने विधायक कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। इसके साथ ही उन्हें कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) से भी बाहर कर दिया गया। हरियाणा से राज्यसभा की 2 सीटों पर हुए मतदान में क्रॉस वोटिंग करने के कारण कुलदीप पर यह कार्रवाई की गई। इस बीच कांग्रेस हरियाणा विधानसभा के स्पीकर से कुलदीप बिश्नोई की बतौर MLA सदस्यता रद्द करने की सिफारिश भी करेगी।

कांग्रेस महासचिव केसी वेणगोपाल की ओर से जारी लैटर के अनुसार, कांग्रेस अध्यक्ष ने तुरंत प्रभाव से कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से निकाल दिया है। गौरतलब है कि हिसार जिले की आदमपुर सीट से कांग्रेस के MLA कुलदीप बिश्नोई ने राज्यसभा सदस्यों के चुनाव में कांग्रेस कैंडिडेट अजय माकन की जगह निर्दलीय उम्मीदवार कार्तिकेय शर्मा को वोट दिया।

वोटिंग के बाद कुलदीप ने ट्विटर पर लिखा कि उन्होंने अंतरात्मा की आवाज पर वोट दिया है। राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के अजय माकन चुनाव हार गए। प्रदेश में कांग्रेस के 31 MLA होने के बावजूद माकन को 29 वोट ही मिले।

हुड्‌डा ने प्रदेशाध्यक्ष बनने में अटकाए रोड़े

कुमारी सैलजा के हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद कुलदीप बिश्नोई प्रदेशाध्यक्ष की दौड़ में सबसे आगे थे। दूसरी ओर पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा अपने बेटे और राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्‌डा को प्रदेशाध्यक्ष बनाना चाहते थे। कांग्रेस के 'एक पद एक नेता' वाले फार्मूले के तहत दीपेंद्र के सांसद होने और खुद हुड्‌डा के विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष होने के कारण इसमें दिक्कत आई। इसके चलते आखिरी क्षणों में कुलदीप बिश्नोई का पत्ता काटने के लिए हुड्‌डा ने दलित नेता उदयभान का नाम आगे रख दिया और उस पर मुहर लगवा ली।

हाईकमान के इस फैसले से कुलदीप बिश्नोई नाराज हो गए। उन्होंने अपनी नाराजगी खुलकर जताई। इसके बाद उनकी भाजपा नेताओं से मुलाकात की तस्वीरें सामने आईं। कुलदीप बिश्नोई ने राज्यसभा चुनाव में भी अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने की बात कहकर न केवल हाईकमान के सामने अपना स्टैंड क्लीयर कर दिया, बल्कि हुड्‌डा खेमे की चिंता भी बढ़ा दी। शुक्रवार-शनिवार मध्यरात्रि में राज्यसभा सीटों के लिए हुई मतगणना में कांग्रेस उम्मीदवार अजय माकन की हार के साथ ही कुलदीप बिश्नोई ने हुड्‌डा से अपना बदला ले लिया।

कांग्रेस के पास पर्याप्त संख्या बल होते हुए भी अजय माकन का हार जाना पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के लिए बड़ा झटका है। इससे हाईकमान की नजरों में उनकी छवि खराब होगी। इसी वजह से हरियाणा कांग्रेस ने अजय माकन की हार के चंद घंटे बाद ही कुलदीप बिश्नोई को सभी पदों से निलंबित कर दिया।